असम में गरजे शाह, 'सरकार देश में किसी घुसपैठिए को बर्दाश्त नहीं करेगी।'

Daily news network Posted: 2019-09-09 08:51:46 IST Updated: 2019-09-10 17:14:25 IST
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने असम में भारतीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम सूची में शामिल होने से वंचित रह गये लोगों को आश्वासन दिया है कि किसी भी स्थानीय नागरिक को एनआरसी से बाहर नहीं रखा जायेगा।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने असम में भारतीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम सूची में शामिल होने से वंचित रह गये लोगों को आश्वासन दिया है कि किसी भी स्थानीय नागरिक को एनआरसी से बाहर नहीं रखा जायेगा।

 


 शाह ने पूर्वोत्तर परिषद के पूर्ण सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि यहां एनआरसी एक मुद्दा है। कई लोग कई तरह के सवाल उठा रहे हैं। एनआरसी को निर्धारित समय के भीतर पूरा कर लिया गया। उन्होंने कहा, 'मैं कहना चाहता हूं कि सरकार देश में किसी घुसपैठिये को बर्दाश्त नहीं करेगी। बाद में एनआरसी मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के दौरान शाह ने उन्हें आश्वस्त किया कि कोई स्थानीय नागरिक एनआरसी से बाहर नहीं रहेगा और किसी भी विदेशी को इसमें शामिल नहीं किया जायेगा।

 


 पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष रंजीत दास और राज्य मंत्रिमंडल के सदस्य डॉ. हिमंत विश्व शर्मा तथा परिमल शुक्लावैद्य तथा अन्य नेताओं ने एनआरसी मुद्दे पर श्री शाह से मुलाकात की। मुलाकात के बाद श्री शुक्लावैद्य ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि श्री शाह ने लोगों से इस बारे में ङ्क्षचता नहीं करने की अपील की है।

 


 उन्होंने बताया , 'प्रतिनिधिमंडल ने कई स्थानीय लोगों के नाम एनआरसी की अंतिम सूची में शामिल होने से वंचित रह जाने का मसला गृह मंत्री के समक्ष उठाया। उन्होंने धैर्यपूर्वक हमारी बातें सुनी और आश्वासन दिया कि कोई भी स्थानीय नागरिक एनआरसी से बाहर नहीं रहेगा और कोई भी विदेशी इसमें शामिल नहीं होगा।'