जानिए किसने रची असम में रोहिंग्या को घुसाने की साजिश

Daily news network Posted: 2019-02-23 09:40:15 IST Updated: 2019-02-23 09:40:32 IST
जानिए किसने रची असम में रोहिंग्या को घुसाने की साजिश

गुवाहाटी

असम के वरिष्ठ मंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने एक दावा किया कि कुछ निहित स्वार्थ वाले संगठन रोहिंग्या मुसलमानों को राज्य में घुसाने की सुनियोजित कोशिश कर रहे हैं और नागरिकता विधेयक के खिलाफ जो प्रदर्शन हो रहे हैं उससे उन्हें समर्थन मिला है। राज्य के वित्त मंत्री शर्मा ने बताया कि पुलिस ने हाल में 75 रोहिंग्या मुसलमानों को गिरफ्तार किया। इसमें से अधिकतर को होजाई, लामडिंग, कछार और करीमगंज जिले से पकड़ा गया। 

 

 


 पुलिस के मुताबिक पिछले एक महीने में करीमगंज में ही इस तरह की 30 गिरफ्तारी हो चुकी है। शर्मा ने दावा किया कि पिछले कुछ दशकों में इन जिलों में आबादी की रूपरेखा में बदलाव हुआ है और राज्य की आबादी के ढांचे में बदलाव के लिए शायद यह किया जा रहा होगा। उन्होंने कहा कि कुछ संगठन रोहिंग्या मुसलमानों को असम में प्रवेश कराने की ताक में है और उनसे चंदा उगाहने के लिए एक नेटवर्क विकसित किया गया है।

 

 


 इसी के साथ ही मंत्री ने कहा कि नागरिकता विधेयक के खिलाफ आंदोलन से ऐसी कोशिश कर रहे संगठनों की मदद ही की है। ज्ञात हो कि राज्य के विभिन्न इलाकों में नागरिकता संशोधन विधेयक का बड़े पैमाने पर विरोध चल रहा है।