पीबीएल में उतरेंगे 17 देश के 90 खिलाड़ी

Daily news network Posted: 2018-12-22 10:17:00 IST Updated: 2018-12-22 10:17:00 IST
पीबीएल में उतरेंगे 17 देश के 90 खिलाड़ी
  • वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग का चौथा सीजन आज से यहां शुरू हो रहा है जिसमें शानदान खेल और पिछले सीजन से बेहतर प्रतिस्पर्द्धा की उम्मीद है।

मुंबई

वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग का चौथा सीजन आज से यहां शुरू हो रहा है जिसमें शानदान खेल और पिछले सीजन से बेहतर प्रतिस्पर्द्धा की उम्मीद है। इस सीजन पुणे एसेस नई टीम के तौर पर लीग में शामिल हो रही है जिससे लीग में टीमों की संख्या नौ हो गई है। विश्व की सबसे महंगी बैडमिंटन लीग में 17 देशों के कुल 90 खिलाड़ी हिस्सा लेंगे जिनमें से आठ खिलाड़ी विश्व रैंकिंग में शीर्ष-8 में शामिल हैं तो आठ खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। ये सभी पीबीएल ट्राॅफी के लिए जद्दोजहद करेंगे। 23 दिन तक चलने वाले इस टूर्नामेंट को स्पोर्ट्सलाइव, भारतीय बैडमिंटन संघ के तत्वावधान में आयोजित करा रहा है। लीग का चौथा सीजन पांच जगहों पर खेला जाएगा।


अहमदाबाद और पुणे पहली बार लीग के मैचों की मेजबानी करेंगे। चौथे सीजन की शरुआत से पहले बीएआई के अध्यक्ष हिमंत विश्व शर्मा ने कहा कि पीबीएल हर सीजन के साथ और बड़ा होता जा रहा है और प्रशंसकों के बीच इसकी बढ़ती मौजूदगी इस बात का सबूत है। ज्यादा से ज्यादा प्रतिभा निकालने के उद्देश्य से शुरू किया गया पीबीएल युवा खिलाड़ियों को प्लेटफाॅर्म देने और उन्हें अपने आप को बड़े मंच के लिए तैयार करने में काफी मददगार साबित हुआ है। लीग में युवाओं को विश्व बैडमिंटन के बड़े नामों के साथ कोर्ट पर खेलने का मौका मिलता है जो इन युवा खिलाड़ियों के लिए सीखने के तौर पर काफी मददगार साबित हुआ है।

 

 रियो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता स्पेन की कैरोलिना मारिन इस सीजन में नई टीम पुणे 7 एसेस से खेल रही हैं। मारिन ने कहा कि मुझे भारत आना और पीबीएल में खेलना बेहद पसंद है। दो साल हैदराबाद के साथ खेलना मेरे लिए काफी अच्छा रहा है और अब मैं पुणे के साथ खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार हूं। जहां तक भारत की पीवी सिंधु के साथ मुकाबले की बात है तो हम दोनों हर मैच जीतना चाहते हैं। मेरा काम अपनी काबिलियत के मुताबिक सर्वश्रेष्ठ खेलना है और मैं निश्चित तौर पर उन्हें कोई मौका नहीं दूंगी। पिछले सीजन में मारिन ने हैदराबाद को खिताब दिलाने में मदद की थी।  वहीं सिंधु मारिन के खिलाफ अपनी प्रतिस्पर्द्धा को आगे ले जाना चाहेंगी। सिंधु ने हाल ही में वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब अपने नाम किया है। वह अपनी इस फार्म को पीबीएल में भी जारी रखने की कोशिश करेंगी। हैदराबाद हंटर्स निश्चित तौर पर खिताब बचाने के लिए काफी हद तक सिंधु पर निर्भर रहेगी।

 

 

सिंधु और मारिन के बीच का मैच दोनों के प्रशंसकों के लिए बेहद खास होगा। सिंधु ने कहा कि अपनी घरेलू टीम के लिए खेलना खास है। इसी के साथ ही उन्होंने कहा कि हम मौजूदा विजेता हैं और मैं जानती हूं कि मेरी जिम्मेदारी जीत के सिलसिले को कायम रखना है। 23 दिन तक चलने वाली इस लीग में कुल नौ टीमें दिल्ली डैशर्स, अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स, अवध वाॅरियर्स, बेंगलुरू रेपटर्स, मुंबई राॅकेट्स, हैदराबाद हंटर्स, चेन्नई स्मैशेस, नाॅर्थईस्टर्न वाॅरियर्स और पुणे 7 एसेस उतर रही हैं। यह सभी टीमें छह करोड़ की ईनामी राशि के लिए लड़ेगी।