राइफल मैन जसवंत रावत की कहानी पर आधारित है फिल्म 72 आॅवर्स, अकेले चीनियों से लिया था लोहा

Daily news network Posted: 2019-01-11 13:51:40 IST Updated: 2019-01-11 13:51:40 IST
राइफल मैन जसवंत रावत की कहानी पर आधारित है फिल्म 72 आॅवर्स, अकेले चीनियों से लिया था लोहा
  • भारत-चीन के बीच 1962 के युद्ध में भारतीय सेना के तमाम जवान शहीद हुए थे। इन कहानियों पर कर्इ फिल्में भी बन चुकी है।

नई दिल्ली।

भारत-चीन के बीच 1962 के युद्ध में भारतीय सेना के तमाम जवान शहीद हुए थे। इन कहानियों पर कर्इ फिल्में भी बन चुकी है। लेकिन इन कहानियों में अगर नहीं सामने आ पाती है तो वह है राइफलमैन जसवंत सिंह रावत की शहादत की कहानी। जिसने 72 घंटे लगातार न सिर्फ एक पोस्ट की रक्षा की बल्कि अकेले के दम पर चीन के तीन सौ सैनिकों को मार डाला था। राइफल मैन जसवंत सिंह रावत को जहां चीनी ने उच्च वीरता सम्मान से नवाजा वहीं, भारतीय सेना ने मरणोपरांत महावीर चक्र से सम्मानित किया। अरुणाचल प्रदेश की सीमा से सटे युद्ध क्षेत्र गढ़वाल राइफल्स के जवान ने जो जाबांजी दिखार्इ उसी पर बनी है एक चौकाने वाली फिल्म '72 आॅवर्स'।

 


 फिल्म का ट्रेलर रिलिज हो चुका है। फिल्म में कोर्इ बढ़ा स्टार नहीं है। किसी बड़े प्रोडक्शन हाउस का भी सपोर्ट नहीं मिला है। बता देंं वीर जसवंत सिंह रावत उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के छोटे से गांव बरयूं के रहने वाले थे। अब उत्तराखंड के इस शहीद की कहानी बड़े पर्दे पर दिखेगी। फिल्म के साथ कोई बड़ी स्टार कास्ट और प्रोडक्शन हाउस न होने के बावजूद भी ट्रेलर से पहले रिलीज हुए '72 आवर्स' के टीजर को दर्शकों और फिल्म समीक्षकों ने काफी पसंद किया है।

 


 

 फिल्म की ज्यादातर शूटिंग भी उत्तराखंड में ही हुई है।  फिल्म को जौनसर क्षेत्र की पहाड़ियां, देहरादून, तपोवन, ऋषिकेश और वन अनुसंधान संस्थान में शूट किया गया है। '72 आवर्स' फिल्म को अविनाश ध्यानी  ने निर्देशित किया है। निर्देशक फिल्म में लीड रोल में भी दिखाई देंगे। उनके साथ फिल्म में मुकेश तिवारी, शिशिर शर्मा और वीरेंद्र सक्सेना भी जबरदस्त किरदार निभाएंगे।  गढ़वाल राइफल्स के राइफलमैन शहीद जसवंत सिंह रावत अरुणाचल प्रदेश की सीमा से सटे युद्ध क्षेत्र में तैनात थे। यहां उन्होंने चीनी सेना के खिलाफ बहादुरी दिखाते हुए कइयों को खदेड़ दिया था।