सावधान खतरे में देश के 71 इलाके, उफान पर नदियां, NDRF की 96 टीमें तैनात

Daily news network Posted: 2018-07-12 11:49:37 IST Updated: 2018-07-12 19:34:36 IST
  • पूरे देश में एेसे 71 इलाके हैं जो बाढ़ से प्रभावित हैं। देश में बाढ़ संभवित क्षेत्राें में बचाव कार्य के लिए नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स ने अपनी टीम का विस्तार किया है।

नर्इ दिल्ली।

पूरे देश में एेसे 71 इलाके हैं जो बाढ़ से प्रभावित हैं। देश में बाढ़ संभवित क्षेत्राें में बचाव कार्य के लिए नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स ने अपनी टीम का विस्तार किया है। एनडीआरएफ के कुल 96 बचाव दल देश के 71 इलाकों में तैनात किए गए हैं।

 

समाचार एजेंसी के मुताबिक बाढ़ में फंसे लोगों की मदद के लिए 3,000 बचावकर्मी तैनात किए गए हैं। इससे पहले देश के 45 अतिसंवेदनशील इलाकों में 42 टीमों को भेजने का प्रबंध किया गया था। इस मामले को देखने के लिए 26 रीजनल रिस्पांस सेंटर्स का भी प्रबंध किया गया है।

 

 


पूर्वोत्तर के अरुणाचल प्रदेश, असम,सिक्किम, त्रिपुरासमेत बिहार, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र, दिल्ली, पंजाब,उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में बाढ़ आने की संभावना सबसे ज्यादा है। इससे पहले गृह मंत्रालय की मानें तो एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा मोचन बल) के 1384 कर्मचारियों को बाढ़ संभावित राज्यों में तैनात किया था।

 

इन राज्यों में पहले से तैनात एनडीआरएफ की टीम

 कुछ राज्यों में एनडीआरएफ की टीम पहले से तैनात है, जहां बारिश की वजह से लोगों की परेशानी बढ़ी है। इनमें से एक है उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में कैलाश मानसरोवर यात्रा कर रहे पांच तीर्थयात्रियों समेत 20 फंसे लोगों को एनडीआरएफ कर्मियों ने बचायाथा।

उफान ब्रह्मपुत्र नदी

 बता दें बाढ़ की वजह से असम के जोरहाट जिले के निमाटीघाट और सोणितपुर जिले के तेजपुर में ब्रह्मपुत्र नदी उफान पर है। ब्रह्मपुर की सहायक नदी जियाभराली सोणितपुर जिले में नॉर्थ ट्रंक रोड पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। यहां बाढ़ में मरने वालों की संख्या अब तक 34 है।

 

खतरे में बिहार, उफान पर बागमती नदी

 बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के बेनीबाद मेंका पानी उफान पर है जबकि मधुबनी जिले के झंझारपुर में कमलाबलान नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। इन राज्यों में खतरे को देखते हुए गृह मंत्रालय ने एनडीआरएफ टीमों की तैनाती का निर्देश दिया है।