NRC ने ली एक और जान, लिस्ट में बेटे का नाम नहीं होने पर 70 वर्षीय पिता ने लगाया मौत को गले

Daily news network Posted: 2018-09-12 17:08:34 IST Updated: 2018-09-13 01:33:46 IST
  • पूर्वोत्तर राज्य असम में एनआरसी ने एक और शख्स की जान ले ली है। सुप्रीम के आदेश पर असम में 30 जुलाई को राष्ट्रीय नगरिक रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम मसौदा सूची जारी किया गया था।

पूर्वोत्तर राज्य असम में एनआरसी ने एक और शख्स की जान ले ली है। सुप्रीम के आदेश पर असम में 30 जुलाई को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम मसौदा जारी किया गया था। इस सूची में असम के 40 लाख लोगों को जगह नहीं मिली थी।

 


 एनआरसी में नाम नहीं होने की वजह से कई लोग आत्महत्या कर चुके हैं। अब एक 70 वर्षीय व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली है। मंगलवार की सुबह उसका शव घर के बाहर एक पेड़ से लटका हुआ मिला है।

 


 रिपोर्ट के अनुसार इस आदमी ने इसलिए आत्महत्या की, क्योंकि उसके बेटे का नाम एनआरसी की अंतिम मसौदे में नहीं था। यह घटना लोअर असम के धुबरी के कनुरी भाग 3 गांव में हुई है। बता दें कि उसके बेटे के अलावा, उसके दो पोते का नाम भी सूची में नहीं है।


 पुलिस ने कहा कि पड़ोसियों ने सुबह- सुबह 6 बजे मृतक को पेड़ से लटका हुआ पाया। इसके बाद तुरंत पुलिस को सूचित किया गया। मृतक देमन बर्मन, कोच राजबोंगशी समुदाय से थे। वे एक किसान थे।


 पुलिस ने कहा कि महेंद्र उनका एकमात्र बेटा था और मेघालय में एक बढ़ई के रूप में काम कर रहा था। बर्मन की पत्नी का नाम ड्राफ्ट सूची में शामिल है। पड़ोसियों ने बताया कि इसी वजह से बर्मन परेशान था।

 



पुलिस मामले की जांच कर रही है। मौत का कारण अभी तक पुष्टि नहीं हुई है क्योंकि बर्मन की पत्नी ने कुछ भी नहीं बोल रही है। इस हादसे से वह सदमे की स्थिति में है। पुलिस ने यह भी कहा कि उसका बेटा अभी तक नहीं पहुंचा है।


 बता दें कि असम सरकार और एनआरसी सचिवालय ने लोगों को जागरूक करने के लिए कई अभियान शुरू किए है कि यह अंतिम सूची नहीं बल्कि एक मसौदा है। सरकार ने यह भी दावा किया है कि जिन लोगों को सूची से बाहर रखा गया है, उनके पास अपनी आपत्ति दर्ज करने का एक और मौका है।