मेघायल में शिक्षक पात्रता परीक्षा के पेपर लीक मामले में 7 गिरफ्तार

Daily news network Posted: 2019-02-08 13:56:37 IST Updated: 2019-02-08 19:46:31 IST

तुरा।

मेघालय शिक्षक पात्रता परीक्षा(एमटीईटी) पेपर लीक केस में पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है लेकिन मुख्य आरोपी अभी भी फरार है। वेस्ट गारो हिल्स पुलिस ने यह जानकारी दी। इस बीच राजाबाला विधायक आजाद जमान ने इन लोगों की गिरफ्तारियों के बाद पुलिस की जांच पर सवाल खड़े किए हैं।

 

 


 उन्होंने कहा कि पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है वे निर्दोष हैं। उन्होंने तो उल्टा जांचकर्ताओं को मामले की खबर दी थी। जमान ने बुधवार को जारी प्रेस रिलीज में कहा कि जिन कुछ छात्रों को गिरफ्तार किया गया है उन्होंने गलती से पेपर मुहैया कराए थे। कांग्रेस विधायक ने कहा, परीक्षा में बैठने व पेपर लीक की सत्यता की पुष्टि के बाद छात्रों ने जांचकर्ता को मामले की जानकारी दी थी। पेपर लीक होने के बावजूद अथॉरिटीज ने परीक्षा करवाई।

 

 


 जमान ने पूछा, पुलिस ने उन निर्दोष छात्रों को क्यों गिरफ्तार किया? मुख्य दोषी को गिरफ्तार क्यों नहीं किया? उन लोगों से पूछताछ क्यों नहीं की गई जिन्हें प्रश्न पत्र हल करने के लिए दिया गया था? साथ ही उन लोगों से भी पूछताछ क्यों नहीं की गई जिनकी कस्टडी में प्रश्न पत्र थे? उन लोगों से पूछताछ क्यों नहीं की गई जिनको प्रश्न पत्र छपवाने के लिए दिए गए थे? विधायक ने कहा कि इस मामले की सीबीआई से जांच करानी चाहिए।

 

 


 3 फरवरी को परीक्षा के पहले दिन ही एमटीईटी पेपर लीक हो गए, इसके बाद शिलॉन्ग के एक वकील ने तुरा में एफआईआर दर्ज करवाई। दो गैर सरकारी संगठनों ने भी मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। वेस्ट गारो हिल्स के पुलिस अधीक्षक एमजीआर कुमार ने कहा, प्रोपर जांच के बाद ही गिरफ्तारियां हुई है। जिन सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनका इरादा गलत तरीकों से परीक्षा उत्तीर्ण करना था। हमने ऐसे किसी व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं किया है जिसने जांचकर्ताओं को मामले की जानकारी दी थी।