एक चॉकलेट बनी मासूम की मौत का कारण, 10 साल की बच्ची ने लगा ली फांसी

Daily news network Posted: 2018-04-04 15:22:12 IST Updated: 2018-04-04 15:30:02 IST
एक चॉकलेट बनी मासूम की मौत का कारण, 10 साल की बच्ची ने लगा ली फांसी
  • महानगर में बीते चौबीस घंटे में अलग-अलग इलाकों से तीन छात्र-छात्राओं द्वारा कथित तौर पर खुदखुशी का मामला सामने आया है

गुवाहाटी।

महानगर में बीते चौबीस घंटे में अलग-अलग इलाकों से तीन छात्र-छात्राओं द्वारा कथित तौर पर खुदखुशी का मामला सामने आया है। हालांकि खबर लिखे जाने तक छात्रों द्वारा खुदकुशी के कारणों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस के अनुसार पहली घटना उत्तर गुवाहाटी थानांतर्गत अमीनगांव स्थित आईआईटी गुवाहाटी की है। यहां बीटेक की पढ़ाई कर रहे कनवरपाल सिंह यादव नामक छात्र का शव संदिग्ध हालत में आगियाठुरी रेलवे स्टेशन के पास पटरी पर मिला। 





इधर, जालुकबाड़ी थानांतर्गत पांडू इलाके में एक दस साल की छात्रा ने घर पर गले में फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। जानकारी के अनुसार कामाख्या कॉलोनी स्थित बिमल स्टोरी नामक दुकान में यह छात्रा कथित रूप से चॉकलेट चुराते हुए पकड़ी गई थी। इस पर दुकानदार ने उसे डांटा था। कहा जा रहा है कि इससे आहत होकर छात्रा में फांसी लगा ली। 





वहीं इस घटना के कुछ घंटे बाद ही पानबाजार थानांतर्गत एटी रोड पुलिस छावनी परिसर स्थित ब्लॉक संख्या बी के चौथे माले स्थित टैरिस से कूदकर रिता ओझा नामक युवती ने खुदकुशी कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर रूप से घायल छात्रा को अस्पताल पहुंचाया, जहां उसने दम तोड़ दिया। मृतक छात्रा के पिता प्रयाग ओझा चांदमारी थाने में बतौर कांस्टेबल कार्यरत हैं। बताया जा रहा है कि छात्रा मानसिक रूप से विक्षिप्त थी। पुलिस ने घटना के संदर्भ में मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।