ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ियों का विरोधी टीम के साथ स्लेजिंग करना कोई नई बात नहीं है। अक्सर वे इसका सहारा लेकर विरोधी टीम पर दवाब डालने की कोशिश करते हैं। 

साल 2014 में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के दौरान भी ऐसा ही कुछ हुआ था जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया गई इंडियन टीम और मेजबान के बीच जमकर झड़प देखने को मिली थी। 

4 मैच की टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा सुर्खियां विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ के बीच हुई तू-तू, मैं-मैं ने बटोरी थी, इस दौरान विराट ने स्मिथ को गुस्से में आकर धमका दिया था और ये मामला काफी गरमा गया था।

बता दें कि सीरीज के पहले ही मैच से ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अपना डर्टी गेम दिखाना शुरू कर दिया था। ऑस्ट्रेलियाई ने पहली इनिंग में 517 रन बनाए तो जवाब में भारत ने भी 444 रन बना लिए थे। इसके बाद से ही बौखलाए ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स ने इंडियन बॉलर्स से स्लेजिंग शुरू कर दी।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ की स्लेजिंग जब ज्यादा ही बढ़ गई तब गुस्से से लाल विराट उनके पास पहुंच गए। धोनी ने 2014 में कप्तानी छोड़ दी थी जिसके बाद विराट टेस्ट कप्तान बने थे। 

इसके बाद नए नवेले कप्तान विराट स्मिथ पर लाइव मैच में जमकर भड़क पड़े। विराट धमकी भरे अंदाज में स्मिथ को कहा, लगता है तुझे कुछ ज्यादा ही परेशानी हो रही है। मेरे प्लेयर्स से पंगा मत ले.. वरना ठीक नहीं होगा।

भड़के हुए विराट को रोकने के लिए अंपायर समेत टीम के प्लेयर्स भी वहां पहुंचे। इसके बाद डेविड वॉर्नर भी विराट को कुछ कहने लगे। उन्हें रहाणे ने शांत रहने को कहा। पूरे मैच में जमकर स्लेजिंग हुई और प्लेयर्स आपस में भिड़ते नजर आए।