भारतीय महिला तैराक माना पटेल ने टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया है।  स्वीमिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि की। टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाली वह पहली महिला और तीसरी भारतीय तैराक बन गईं है।  माना को यूनिवर्सलिटी कोटे के तहत ओलिंपिक में प्रवेश मिला है।  21 साल की माना 100 मीटर बैकस्ट्रोक प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। 

श्रीहरि नटराज और साजन प्रकाश के क्वालिफाई करने के बाद माना टोक्यो ओलिंपिक में देश की तीसरी तैराक होंगी।  साजन प्रकाश ने 200 मीटर बटरफ्लाई और श्रीहरि नटराज ने 100 मीटर बैकस्ट्रोक में क्वालिफिकेशन का ‘ए’ मार्क हासिल किया था।  यूनिवर्सलिटी’ कोटा एक देश के एक पुरुष और एक महिला प्रतियोगी को ओलिंपिक में भाग लेने की अनुमति देता है, बशर्ते उस लिंग से देश के किसी अन्य तैराक ने क्वालीफाई नहीं किया हो या फिना (तैराकी की वैश्विक संस्थान) की तरफ से उसे आमंत्रण न दिया गया हो। 

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट कर माना को उनके टोक्यो जाने पर बधाई दी और लिखा, ‘बैकस्ट्रोक तैराक माना पटेल #Tokyo2020 के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली महिला और तीसरी भारतीय तैराक बन गई हैं।  मैं माना को बधाई देता हूं।  बहुत बढ़िया।