टोक्यो ओलंपिक्स में अब भारत की निगाहें बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु पर टिकी हैं। सिंधु का क्वार्टरफाइनल मुकाबला चौथे नंबर की जापान की खिलाड़ी अकाने यामागुची से होने जा रहा है। सिंधु ने क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिए डेनमार्क की मिया को 2-0 से हराया तो वहीं यामागुची ने साउथ कोरिया की किम गा उन को 2-0 से शिकस्त दी। 

ओलंपिक में अपने लगातार दूसरे क्वार्टर फाइनल में पहुंचने और बड़े मौकों पर अपने खेल को बढ़ाने पर सिंधु ने कहा, "बहुत से लोगों ने मुझे यह बताया है। मैं इसे एक कॉम्प्लिमेंट के रूप में लूंगी। लेकिन मेरे लिए हर खेल महत्वपूर्ण है। हर बिंदु पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है, मैच पर नहीं।" 

सिंधु ने क्वार्टरफाइनल से पहले रविवार को इज़राइल की केन्सिया पोलिकारपोवा को 21-7, 21-10 से हराकर अपने टोक्यो अभियान की अच्छी शुरुआत की थी। पूरा मैच सिर्फ 28 मिनट तक चला। 

पीवी सिंधु से करोड़ों भारतीयों को मेडल की उम्मीद है। भारत के खाते में अब तक महज एक ही मेडल है। वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू ने सिल्वर मेडल प्राप्त कर खाता खोला, लेकिन 7वें दिन तक भारत को महज 1 मेडल से संतोष करना पड़ा है।