एशियन चैंपियनशिप में अपनी क्षमता का प्रदर्शन करने के लिए भारतीय जूनियर महिला हैंडबल खिलाड़ी तैयार हैं। टीम की घोषणा कर दी गई। यह खेल लेबनान में 20 जुलाई से आयोजित किया जाएगा। एशियन जूनियर महिला हैंडबॉल चैंपियनशिप में प्रतिभाग करने वाली भारतीय टीम की मंगलवार को यहां भारतीय हैंडबॉल संघ के महासचिव आनन्देश्वर पाण्डेय ने घोषणा की।


भारतीय हैंडबॉल संघ व भारतीय खेल प्राधिकरण के समन्वय से डॉ. भीमराव अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स  में गत एक पखवारे से भारतीय महिला हैण्डबाल टीम का प्रशिक्षण चल रहा था। शिविर में विभिन्न राज्यों की 20 खिलाड़ी शामिल रहीं। एचएफआई के महासचिव आनंदेश्वर पाण्डेय ने कहा कि भारतीय टीम बेहद संतुलित है। उम्मीद है कि योग्य व अनुभवी प्रशिक्षकों की देखरेख में खिलाड़ी श्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश का नाम रोशन करेंगे।


उप्र हैंडबॉल संघ के संयुक्त सचिव परमेन्द्र सिंह ने बताया कि 28 जून से चल रहे हुए प्रशिक्षण शिविर का टीम घोषणा के साथ मंगलवार को समापन हुआ। कोलकाता साईं के प्रशिक्षक अतनू मजूमदार, हरियाणा के अनूप सिंह व मणिपुर की शीतल ने खिलाड़ियों के खेल कौशल व तकनीक में वृद्धि के लिए कड़ी मेहनत की।


सिंह ने बताया कि टीम 18 जुलाई को दिल्ली से लेबनान के लिए रवाना होगी। भारतीय जूनियर महिला हैंडबॉल टीम में हरियाणा व हिमाचल प्रदेश की चार-चार खिलाड़ियों ने जगह बनाई है। जबकि दिल्ली की तीन, केरल व बिहार की दो-दो व पश्चिम बंगाल की एक खिलाड़ी स्थान बनाने में कामयाब हुई है।


घोषित भारतीय टीम में खुशबू (कप्तान), आशा, काजल  व मोनिका (सभी हरियाणा), प्रियंका ठाकुर, शालिनी ठाकुर, दीपशिखा व हेमलता (सभी हिमाचल प्रदेश), तनिष्का व सोनम शगुन (सभी दिल्ली), अंजली, वेणु व दिलना जॉर्ज (केरल), खुशबू  व रागिनी (बिहार) तथा  मनीषा (पश्चिम बंगाल) शामिल हैं। टीम का मुख्य कोच अतनू मजूमदार (पश्चिम बंगाल) को तथा अनूप सिंह (हरियाणा) व शीतल (मणिपुर) को सहायक कोच नियुक्त किया गया है।