सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ डेविड वॉर्नर के बल्ले से गुरुवार को आग बरस रही थी। कभी इस टीम की कप्तानी कर चुके वॉर्नर ने दिल्ली कैपिटल्स की ओर से पारी का आगाज किया और 58 गेंद पर नॉटआउट 92 रन ठोक डाले। वॉर्नर ने अपनी पारी के दौरान 12 चौके और तीन छक्के लगाए। उनकी इस पारी के दम पर दिल्ली कैपिटल्स ने 20 ओवर में तीन विकेट पर 207 रन बना डाले। जैसे ही दिल्ली कैपिटल्स की पारी खत्म हुई, सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन और तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने अपनी खेलभावना से सबका दिल जीत लिया।

यह भी पढ़े : Horoscope May 6 : शुक्र और गुरु का मीन राशि में गोचर इन राशियों के लिए बढ़ाएगा परेशानियां , पीली वस्‍तु पास रखें


दोनों ही वॉर्नर के पास पहुंचे और उन्हें इस दमदार पारी के लिए बधाई दी। वॉर्नर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच पिछले साल चीजें काफी खराब हो गई थीं। वॉर्नर से पहले कप्तानी छीनी गई और फिर उन्हें प्लेइंग XI से भी आउट कर दिया गया था।

यह भी पढ़े : Chandra Grahan 2022: पूर्णिमा के 12 दिन बाद लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानिए सूतक काल का समय


सनराइजर्स हैदराबाद को अपनी कप्तानी में आईपीएल खिताब जिता चुके वॉर्नर को इस साल मेगा ऑक्शन से पहले रिटेन नहीं किया गया था, जिसके बाद वह ऑक्शन में उतरे थे और दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें खरीदा था। वॉर्नर दिल्ली कैपिटल्स (तब दिल्ली डेयरडेविल्स) टीम का हिस्सा पहले भी रह चुके हैं। वॉर्नर के अलावा रोवमैन पॉवेल ने 35 गेंद पर नॉटआउट 67 रन बनाए।

यह भी पढ़े : लव राशिफल 6 मई: मीन राशि वाले अपने पुराने प्यार से मिलने की कोशिश ना करें, ये लोग रोमांटिक लाइफ को थोड़ा धीमें करें 


भुवनेश्वर कुमार सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से इकलौते ऐसे गेंदबाज रहे, जिन्होंने 7 से कम इकॉनमी रेट पर रन खर्चे। बाकी गेंदबाजों की वॉर्नर और पॉवेल ने जमकर धुनाई की थी।