भारतीय कप्तान विराट कोहली  (Indian captain Virat Kohli ) टी-20 वर्ल्डकप (T20 World Cup) के बाद क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ देंगे. ऐसे में टीम इंडिया के नए टी-20 कप्तान को लेकर लगातार चर्चा हो रही है. इस बीच पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा है कि विराट के बाद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को टीम इंडिया का कप्तान बनाया जाना चाहिए.

इसके साथ ही उन्होंने लोकेश राहुल या ऋषभ पंत (Lokesh Rahul or Rishabh Pant) को उपकप्तान बनाए जाने की वकालत की है. रोहित फिलहाल वनडे और टी-20 फॉर्मेट में भारत के उपकप्तान हैं और कोहली (Virat Kohli )  के बाद टी-20 टीम के कप्तान बनने के प्रबल दावेदार हैं.

स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड में गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा मुझे लगता है कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को विराट के बाद टी-20 टीम का कप्तान बनाया जाना चाहिए. अगले दो टी-20 वर्ल्डकप बहुत जल्द होने वाले हैं. एक वर्ल्डकप अगले महीने से शुरू हो रहा है और दूसरा ठीक उसके एक साल बाद. 

निश्चित रूप से ऐसे समय में आप बहुत ज्यादा कप्तान नहीं बदलना चाहते हैं. रोहित शर्मा अगले टी-20 कप्तान के लिए मेरी पहली पसंद होंगे और मैं लोकेश राहुल को उपकप्तान के रूप में देखना चाहूंगा. 

गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने आगे कहा मैं ऋषभ पंत(Rishabh Pant) को भी ध्यान में रखना चाहूंगा. दिल्ली के कप्तान को तौर पर उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है. टी-20 फॉर्मेट में उन्होंने काफी बेहतरीन तरीके से अपने गेंदबाजों को चलाया है.

उन्होंने जिस तरह से ऑनरिक नॉर्टजे (Honorik Nortje)  और कगिसो रबादा (Kagiso Rabada) जैसे गेंदबाजों का इस्तेमाल किया है. इससे यह साबित होता है कि वो स्मार्ट कप्तान हैं और आप हमेशा स्मार्ट कप्तान ही चाहते हैं, जो हालातों को समझकर उनके हिसाब से फैसले ले सके. इसलिए राहुत और पंत वो दो खिलाड़ी हैं, जिन्हें मैं उपकप्तान के रूप में देखना चाहता हूं.

वर्ल्डकप के बाद टी-20 की कप्तानी छोड़ रहे हैं  भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli ) ने कुछ दिन पहले ही ऐलान किया कि वो इस वर्ल्डकप के बाद टी-20 फॉर्मेट में भारतीय टीम की कप्तानी नहीं करेंगे. इसके कुछ दिनों बाद ही उन्होंने यह भी कहा कि इस सीजन के बाद वो आईपीएल में बेंगलुरू की कप्तानी भी छोड़ देंगे. उन्होंने सोशल मीडिया पर कप्तानी छोडऩे का ऐलान करते हुए लिखा था मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि मुझे न सिर्फ भारत के लिए खेलने का मौका मिला, बल्कि मैनें भारतीय टीम की कप्तानी भी की.

विराट (Virat Kohli ) ने कहा- इस दौरान मैनें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश की. मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा, जिन्होंने इस दौरान मेरा समर्थन किया. मैं उनके बिना यह नहीं कर सकता था. मैं सभी खिलाडिय़ों, सपोर्ट स्टाफ, चयन समिति, कोच और उन सभी भारतीय फैंस का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा, जिन्होंने हमारी जीत के लिए दुआएं की.

वर्कलोड कम करने के लिए छोड़ी कप्तानी विराट (Virat Kohli ) ने टी-20 की कप्तानी छोडऩे के पीछे की वजह बताते हुए लिखा था वर्कलोड को समझना बहुत जरूरी है. मैं पिछले आठ-नौ सालों से लगातार भारत के लिए तीनों फॉर्मेट में खेल रहा हूं और पांच-छह साल से कप्तानी भी कर रहा हूं.

उन्होंने कहा- मुझे लगता है कि वनडे और टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान खुद को तैयार करने के लिए मुझे थोड़ा समय चाहिए. टी-20 कप्तान के रूप में मैनें अपनी टीम को सब कुछ दिया है और आगे भी मैं एक बल्लेबाज के रूप में अपना योगदान देने की कोशिश करूंगा.