झारखंड के स्पिनर शाहबाज नदीम ने विजय हजारे ट्रॉफी में राजस्थान के खिलाफ खेलते हुए 10 रन पर आठ विकेट चटकाकर लिस्ट ए क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का 10 साल पुराना विश्व रिकार्ड तोड़ दिया। बाएं हाथ के स्पिनर नदीम की उम्दा गेंदबाजी के सामने राजस्थान की टीम 28 .3 ओवर में 73 रन पर ढेर हो गई। नदीम ने 10 ओवर में चार मेडन फेंकते हुए 10 रन देकर आठ विकेट हासिल किए।

राजस्थान के खिलाफ मैच में झारखंड के स्पिनर शाहबाज नदीम ने 10 ओवर में 10 रन देकर 8 विकेट लिए। इस दौरान उन्होंने 4 मेडन ओवर भी डाले। नदीम ने राजस्थान के खिलाफ कुल आठ विकेट हासिल जिसमें से पांच बल्लेबाजों को उन्होंने बोल्ड किया। ओपनिंग जोड़ी अमित कुमार गौतम और अंकित लांबा को नदीम ने बोल्ड कर वापस भेजा। इसके साथ ही उन्होंने अशोक मेनारिया, महिपाल कृष्ण और अभिमन्यू लांबा की भी गिल्लियां बिखेरी। 

लिस्ट ए क्रिकेट में इससे पहले का विश्व रिकार्ड भी भारत के ही बाएं हाथ के स्पिनर राहुल सांघवी के नाम था, जिन्होंने 1997-98 में हिमाचल प्रदेश के खिलाफ दिल्ली की ओर से खेलते हुए 15 रन देकर आठ विकेट चटकाए थे। सांघवी भारत की ओर से एकमात्र टेस्ट 2001 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले। नदीम ने अब तक 99 प्रथम श्रेणी मैचों में 29 .74 की औसत से 375 विकेट चटकाए हैं। उन्होंने 87 लिस्ट ए मैचों में 124 विकेट जबकि 109 टी-20 मैचों में 89 विकेट हासिल किए। विजय हज़ारे ट्रॉफी में झारखंड के खिलाफ खेलते हुए राजस्थान की पूरी टीम सिर्फ 73 रन पर सिमट गई। शाहबाज़ नदीम ने 8 विकेट लिए तो अन्य दो विकेट दूसरे स्पिन गेंदबाज़ अंकुल राय ने चटकाए। राजस्थान की ओर से सबसे अधिक 20 रन अंकित लाम्बा ने बनाए। 74 रन के छोटे से लक्ष्य को झारखंड की टीम ने 14.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। हालांकि इस चुनौती को पार करने के लिए झारखंड की टीम ने भी अपने तीन विकेट गंवा दिए।