त्रिपुरा के खिलाफ जारी रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-सी मैच में ओडिशा को जीत के लिए 104 रनों की जरूरत है। यहां ड्रीम्स ग्राउंड पर जारी इस मैच में 79 के स्कोर पर अपने पांच विकेट गंवाने वाली ओडिशा की दूसरी पारी को श्रुभांशु सेनापति (नाबाद 43) और अभिषेक राउत (नाबाद 20) ने संभाला है।


श्रुभांशु और अभिषेक ने तीसरे दिन शुक्रवार को नाबाद रहते हुए स्टम्प्स तक छठे विकेट के लिए 32 रन जोड़कर टीम को 111 के स्कोर तक पहुंचा दिया है। ओडिशा को अभी जीत के लिए 104 रनों की जरूरत है। इस पारी में त्रिपुरा के लिए मणिशंकर मूरासिंह ने सबसे अधिक चार विकेट लिए हैं।


गोवा क्रिकेट एसोसिएशन अकादमी ग्राउंड पर जारी ग्रुप-सी के एक अन्य मैच में झारखंड की पहली पारी को 390 के स्कोर पर समाप्त करने के बाद गोवा ने अपनी दूसरी पारी में स्टम्प्स तक एक विकेट के नुकसान पर 10 रन बना लिए हैं।


झारखंड ने अनुकूल रॉय (127), कप्तान नजीम सिद्दिकी (71) और उत्कर्ष सिंह (75) की शानदार पारियों के दम पर अपनी पहली पारी में 390 रनों का स्कोर खड़ा किया। इस पारी में गोवा के लिए अमूल्य पांडरेकर ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए। इसके अलावा अमोघ सुनील देसाई, दर्शन मिसाल और विशम्भर काहलोन ने दो-दो विकेट हासिल किए।


एक अन्य मैच में अनिकेत चौधरी (5/64) की शानदार गेंदबाजी के दम पर उत्तर प्रदेश की पहली पारी 214 रनों पर समाप्त करने के बाद राजस्थान ने कानपुर के ग्रीन पार्क पर जारी मैच में स्टम्प्स तक अपनी पहली पारी में चार विकेट के नुकसान पर 136 रनों का स्कोर खड़ा कर लिया है।


राजस्थान के लिए अमित कुमार गौतम (66) और राजेश बिशनोई जूनियर (5) नाबाद हैं। उत्तर प्रदेश के लिए इस पारी में अंकित राजपूत ने सबसे अधिक दो विकेट लिए। शिवम चौधरी और सौरभ कुमार को एक-एक सफलता मिली।


पालम-ए स्टेडियम में जारी ग्रुप-सी के एक अन्य मैच में सर्विसेज को जम्मू एवं कश्मीर के खिलाफ जीत के लिए 38 रनों की दरकार है। सर्विसेज ने अपनी दूसरी पारी में स्टम्प्स तक पांच विकेट के नुकसान पर 67 रन बना लिए हैं। जम्मू एवं कश्मीर के कप्तान परवेज रसूल और मोहम्मद मुदस्सिर को दो-दो विकेट हासिल हुए हैं।


सर्विसेज ने जम्मू एवं कश्मीर की दूसरी पारी 261 रनों पर समाप्त की। अरुण बमाल ने इस पारी में सर्विसेज के लिए सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं दिवेश पथानिया को तीन और सचिदानंद पांडे को दो विकेट मिले।