छह बार की विश्व चैम्पियन एम सी मैरीकॉम (51 किग्रा) और विश्व चैम्पियनशिप के रजत विजेता अमित पंघल (52 किग्रा) ने एशिया/ओसनिया ओलंपिक क्वालिफायर मुक्केबाजी टूर्नामेंट में शनिवार को अपने-अपने मुकाबले जीतकर क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया तथा अब वे टोक्यो ओलंपिक का टिकट हासिल करने से महज एक ईंच दूर रह गये हैं।


ओलंपिक कांस्य पदक विजेता मुक्केबाज मैरीकॉम ने प्री क्वार्टरफाइनल में न्यूजीलैंड की तास्मीन बैनी को एकतरफा अंदाज में 5-0 से जीतकर क्वार्टरफाइनल में स्थान बना लिया। अपने वजन वर्ग में शीर्ष वरीयता प्राप्त पंघल ने मंगोलिया के एंखमनादख खारखु को कड़े मुकाबले में 3-2 से पराजित किया। पंघल अब टोक्यो ओलम्पिक का टिकट पाने से एक जीत दूर रह गए हैं लेकिन राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन गौरव सौलंकी (57) को टॉप सीड और विश्व चैंपियन उज्बेकिस्तान के मिराजिजाबेक मिर्जाखालिलोव से 1-4 से हार का सामना करना पड़ा।


पंघल को मंगोलियाई मुक्केबाज से अपने पिछले मुकाबले में विश्व सैन्य खेलों में हार का सामना करना पड़ा था लेकिन पंघल ने इस बार अपने दमदार प्रहारों से सारा बदला चुका लिया। मुकाबला हालांकि काफी कड़ा था लेकिन पांच जजों में से तीन ने भारतीय मुक्केबाज के पक्ष में अपना फैसला सुनाया। एशियाई चैंपियनशिप के स्वर्ण विजेता पंघल का क्वार्टरफाइनल में साउथ ईस्ट एशियन गेम्स चैंपियन फिलीपींस के कार्लो पालम से मुकाबला होगा। अब तक चार भारतीय महिला और छह पुरुष सहित 10 मुक्केबाज क्वार्टरफाइनल में जगह बना चुके हैं और टोक्यो का टिकट हासिल करने से एक जीत दूर रह गए हैं।


इससे पहले राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता विकास कृष्णन (69 किग्रा) ने शुक्रवार को किर्गिस्तान के नूरसुल्तान ममाताली को 5-0 से हराकर क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली जबकि नमन तंवर (91 किग्रा) अपना मुकाबला हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए। नमन को सीरिया के अलदीन घोउसुन के हाथों 0-5 से हार का सामना करना पड़ा। पूर्व युवा चैंपियन साक्षी (57), सिमरनजीत कौर (60), मनीष कौशिक (63), आशीष कुमार (75) और सचिन कुमार (81) अपने-अपने मुकाबले जीत कर क्वार्टरफाइनल में पहुंच चुके हैं। विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोर्गोहेन (69 किग्रा), एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता पूजा रानी (75 किग्रा) और राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता सतीश कुमार (91 किग्रा) पहले राउंड में बाई मिलने से सीधे क्वार्टरफाइनल में जगह बना चुके हैं।