आईपीएल 2021 टलने के बाद ज्यादातर देशों के खिलाड़ी अपने देश लौट चुके हैं, लेकिन ऑस्ट्रेलिया द्वारा लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के कारण उनके देश के खिलाड़ी, कोच और कॉमेंटेटर अपने वतन नहीं लौट पाए।  ये सभी फिलहाल मालदीव में क्वारेंटाइन हैं और प्रतिबंधों के हटने का इंतजार कर रहे हैं। 

 इस बीच एक रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें ये दावा किया गया है कि मालदीव के बार में ऑस्ट्रेलियाई ओपनर डेविड वॉर्नर और कॉमेंटेटर माइकल स्लेटर के बीच हाथापाई हो गई।  इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद दोनों ने अपनी चुप्पी तोड़ी है।  वॉर्नर और स्लेटर दोनों ने ही बार में हुई झड़प से इनकार किया है। 

संडे टेलीग्राफ ने सबसे पहले मालदीव के ताज कोरल रिसोर्ट में वॉर्नर और स्लेटर के बीच बार में झगड़े की खबर दी थी।  अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, होटल के बार में दोनों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी शुरू हो गई और नौबत हाथापाई तक की आ गई थी।  हालांकि स्लेटर ने इस खबर पर सफाई देते हुए कहा, 'मैं और वॉर्नर दोनों पुराने दोस्त हैं।  हमारे बीच किसी तरह का कोई विवाद नहीं हुआ। ' उन्होंने सीनियर जर्नलिस्ट फिल रॉथफील्ड को मैसेज भेजकर रिपोर्ट को गलत बताया। 

वॉर्नर ने भी सफाई देने में देरी नहीं की और उन्होंने भी कहा कि हमारे बीच ऐसा कोई विवाद नहीं हुआ है।  मुझे नहीं पता आप सब इतना लिखते हैं।  वो भी तब जब आप खुद यहां मौजूद नहीं हैं।  आपने कुछ देखा नहीं हैं।  ऐसे में जब पक्के सबूत ही नहीं हैं, तो आप कुछ भी नहीं लिख सकते हैं। 

वॉर्नर और स्लेटर के बीच दोस्ती पुरानी है।  ये दोनों स्काई स्पोर्ट्स रेडियो और चैनल 9 के लिए साथ में कई प्रोग्राम कर चुके हैं।  इस बीच, स्लेटर लगातार ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की आलोचना के कारण चर्चा में बने हुए हैं।  

स्लेटर ने हाल ही में यात्रा प्रतिबंध लगाने के लिए प्रधानमंत्री मॉरिसन की कड़ी आलोचना की थी।  उन्होंने कहा था कि उनके देश के प्रधानमंत्री को अपने लोगों की कोई फिक्र नहीं हैं।  हालांकि, उनके इस बयान को प्रधानमंत्री ने गलत ठहराते हुए कहा था कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार की प्राथमिकता अपने नागरिकों की सुरक्षा करना है।