ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम पहली पारी में 189 रन पर ऑलआउट हो गई। भारत के बल्लेबाजों ने शर्मनाक प्रदर्शन किया। लोकेश राहुल(90)के अलावा कोई भी खिलाड़ी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना नहीं कर सका। ऑस्ट्रेलिया के नाथन लियोन ने 50 रन देकर 8 विकेट लिए।
टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही। तीसरे ही ओवर में टीम इंडिया का पहला विकेट गिर गया। 2.5 ओवर में मिशेल स्टार्क की गेंद पर अभिनव मुकुंद बिना खाता खोले पवैलियन लौटे। इसके बाद नए बल्लेबाज के रुप में आए चेतेश्वर पुजारा ने कुछ देर तक लोकेश राहुल के साथ टिककर बल्लेबाजी की। दोनों ने 61 रन जोड़े। लंच से ठीक पहले 27.5 ओवर में भारत को दूसरा झटका लगा जब नाथन लियोन की गेंद पर पुजारा (17)हैंड्सकॉम्ब के हाथों कैच आउट हुए।

भारत को तीसरा झटका 33.5 ओवर में कप्तान विराट कोहली के रूप में लगा। कोहली ने 12 रन बनाए। वे नाथन लियोन का शिकार बने। कोहली ने स्टम्प की ओर जाती ऑफब्रेक गेंद को खाली छोड़ दिया और गेंद सीधी पैड पर जा लगी। ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स की अपील पर अंपायर ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट दे दिया। लोकेश से बात करने के बाद कोहली ने रिव्यू लिया। टीवी रिप्ले में साफ दिखा कि बॉल मिडल और लेग स्टम्प की लाइन में थी। अंपायर के फैसले से पहले ही विराट पवैलियन की ओर लौट गए।

नाथन लियोन ने 47.3 ओवर में अजिंक्य रहाणे(17)को आउट कर भारत को चौथा झटका दिया। शॉट मारने की कोशिश में क्रीज से काफी आगे निकल चुके रहाणे को मैथ्यू वेड ने स्टम्पिंग कर दिया। इस वक्त भारत का स्कोर 118 रन था। अगला विकेट 57.2 ओवर में करुण नायर(62)का विकेट गिरा। इस वक्त टीम का स्कोर 156 रन था। स्टीव ओकीफे की गेंद पर शॉट मारने के लिए नायर आगे बढ़े लेकिन चूक गए और वेड ने गिल्लियां उड़ा दी। छठा विकेट आर अश्विन(7)के रूप में गिरा।

61.5 ओवर में लियोन की गेंद पर वॉर्नर ने उन्हें कैच आउट किया। रिद्धिमान साहा केवल 1 रन बनाकर लियोन की गेंद पर स्मिथ के हाथों कैच आउट हुए। इस मैच में भारत की ओर से लोकेश राहुल ने फिफ्टी लगाई। उन्होंने अपने 50 रन 105 गेंद में पूरे किए। इसमें 8 चौके शामिल थे। ये उनके टेस्ट करियर का तीसरा अर्धशत था। वहीं ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा। पहले टेस्ट के मुकाबले दूसरे टेस्ट के लिए टीम में दो बदलाव किए गए हैं। चोटिल मुरली विजय की जगह अभिनव मुकुंद को और जयंत यादव की जगह करुण नायर को टीम में शामिल किया गया है।

ऑस्ट्रेलिया ने टीम में कोई बदलाव नहीं किया है। 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया 1-0 से आगे है। बेंगलूरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में टीम इंडिया का फिफ्टी फिप्टी का रिकॉर्ड है। भारत ने यहां कुल 21 टेस्ट खेले हैं,जिनमें से 6 जीते और 6 हारे हैं। यहां 9 टेस्ट ड्रॉ रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया ने इस ग्राउंड पर 5 टेस्ट खेले,2 में जीत दर्ज की है। इस ग्राउंड पर आखिरी टेस्ट नवंबर 2015 में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया था,जो ड्रॉ रहा था। ऑस्ट्रेलिया ने अक्टूबर 2004 में भारत को इसी मैदान पर 217 रन से हराया था। भारत ने 6 साल बाद अक्टूबर 2010 में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर बदला लिया था। ये इस ग्राउंड पर भारत-ऑस्ट्रेलिया का आखिरी मैच था।