इंदिरा गांधी एथलेटिक स्टेडियम में सोमवार को मेजबान नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी और जमशेदपुर एफसी के बीच हुए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन के एक रोमांचक मुकाबले में छह गोल हुए लेकिन नतीजा शिफर रहा और दोनों टीमों को 3-3 के ड्रॉ के साथ अंक बांटने पर मजबूर होना पड़ा।


नॉर्थईस्ट को 15 मैचों में सातवीं बार जबकि जमशेदपुर को 16 मैचों में पांचवीं बार ड्रॉ खेलना पड़ा है। नॉर्थईस्ट 13 अंकों के साथ नौंवें और जमशेदपुर 17 अंकों के साथ सातवें नंबर पर कायम है। हाईलैंडर्स चार हार के बाद लगातार दूसरा ड्रॉ खेलने में सफल रहे हैं जबकि जमशेदपुर की टीम तीन मैचों में लगातार हार के बाद पहली बार अंक हासिल करने में सफल रही है।


बहरहाल, दोनों टीमों के बीच पहला हाफ 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ। मेजबान टीम ने जहां पांचवें मिनट में फेडरिको गालेगो के गोल की मदद से बढ़त बनाई थी वहीं मेहमान टीम ने तमाम प्रयासों के बाद आखिरकार पहले हाफ के इंजुरी टाइम में उसे उतार दिया।


19वें मिनट में हालांकि मिस्लाव कोमोस्र्की के चोटिल होने से मेजबान टीम को झटका लगा। 35वें मिनट में बिकास जाएरू जमशेदपुर के लिए गोल करने से चूक गए लेकिन डेविड ग्रांडे ने हाफ टाइम की सीटी बजने से ठीक पहले उसके लिए एक शानदार मैदानी गोल करते हुए स्कोर 1-1 कर दिया।


दूसरे हाफ के शुरुआती 10 मिनट यूहीं निकल गए। इस बीच हालांकि जमशेदपुर ने अपना बॉल पजेशन थोड़ा बेहतर किया। बावजूद इसके इस हाफ का पहला बड़ा हमला मेजबान टीम की ओर से हुआ लेकिन वह नाकाम रहा। 56वें मिनट में एंड्रयू कोह अपनी टीम को 2-1 की बढ़त दिलाने का एक स्वर्णिम मौका चूक गए।


62वें मिनट में जमशेदपुर ने अनिकेत जाधव के स्थान पर फरुख चौधरी को अंदर लिया। मैदान पर आने के दो मिनट बाद ही चौधरी को करामात दिखाने का मौका मिला था लेकिन वह चूक गए। चौधरी को 67वें मिनट में पीला कार्ड भी मिला।


चौधरी कुछ करामात कर पाते उससे पहले ही रिडीम थ्लांग ने 77वें मिनट में गोल करते हुए मेजबान टीम को 2-1 से आगे कर दिया। थ्लांग ने छह गज के बॉक्स के करीब रहते हुए अपने सामने आए मौके को भुनाया और गोल करते हुए अपनी टीम को मैच में वापस ला दिया।

उसकी यह वापसी हालांकि कुछ पलों की मेहमान थी। 79वें मिनट में जमशेदपुर को एक पेनाल्टी मिला लेकिन ग्रांडे उस पर गोल नहीं कर सके। यहां सुभाशीष रॉय ने एक शानदार बचाव कर अपनी टीम की बढ़त बनाए रखी।


यह बढ़त हालांकि इसके तीन मिनट बाद ही खत्म हो गई क्योंकि नोए एकोस्टा ने 82वें मिनट में गोल करते हुए अपनी टीम को 2-2 की बराबरी दिला दी। इसके तीन मिनट बाद मेमो ने बॉक्स के बाहर से फ्रीकिक पर गोल करते हुए जमशेदपुर को 3-2 से आगे कर दिया।


87वें मिनट में फरुख को दूसरा पीला कार्ड मिला, जो लाल कार्ड में बदल गया। अब जमशेदपुर 10 खिलाडिय़ों के साथ खेलने को मजबूर थी। इसका फायदा मेजबान टीम ने उठाया और 88वें मिनट में गोल करते हुए स्कोर 3-3 कर दिया। यह गोल उसके लिए जोस डेविड लेउदो ने किया। इसके बाद कोई और गोल नहीं हो सका।