नई दिल्ली। महाराष्ट्र में होने आईपीएल (IPL) के आगामी सीजन में आयोजन स्थलों पर 25 प्रतिशत से अधिक दर्शकों की मौजूदगी देखी जा सकती है। राज्य सरकार से हालांकि प्रारंभिक अनुमति केवल एक-चौथाई स्टेडियम के आकार के लिए है, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को विश्वास है कि लीग के आगे बढऩे पर अधिक प्रशंसकों को अनुमति दी जाएगी। 

यह भी पढ़ें- LPG Price Latest: घरेलू एलपीजी सिलेंडर आज से 50 रुपये महंगा

बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने सोमवार को क्रिकबज को बताया कि यह हमारी समझ के ऊपर है। आगे जाकर स्टेडियमों में शुरुआती खेलों की तुलना में अधिक प्रशंसक होंगे। कोरोना के मामले दिन ब दिन कम होने के साथ हम उम्मीद कर रहे हैं कि अधिक लोग स्टैंड में होंगे। प्रारंभिक अनुमान के अनुसार वानखेड़े में 9800 से 10 हजार दर्शक होंगे, जबकि पड़ोसी ब्रेबोर्न स्टेडियम, जिसकी क्षमता लगभग 28 हजार है, में सात से आठ हजार दर्शक होंगे। 

वहीं नेरुल में डीवाई पाटिल स्टेडियम, जो आकार में बड़ा है, में 11 से 12 हजार दर्शकों को अनुमति दी जाएगी और पुणे में महाराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम में शुरुआत में 12 हजार दर्शकों को अनुमति दिए जाने की जानकारी है। प्रशंसकों के आयोजन स्थलों पर वापस आने के साथ बीसीसीआई काफी उत्साहित है। बोर्ड ने वेस्ट इंडीज और श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता, धर्मशाला, मोहाली और बेंगलुरु में हाल के अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए दर्शकों की उपस्थिति पर संतोष व्यक्त किया है। 

यह भी पढ़ें- स्पाइस जेट ने गुवाहाटी से दिल्ली और चेन्नई के लिए दो नई सीधी उड़ानें शुरू की

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने राज्य क्रिकेट संघों को लिखे पत्र में कहा, 'भारतीय टीम ने पहले वेस्ट इंडीज और अब श्रीलंकाई टीम के खिलाफ घरेलू श्रृंखलाओं में क्लीन स्वीप के साथ एक शानदार प्रदर्शन किया है। बेंगलुरु में ङ्क्षपक बॉल टेस्ट मैच में स्टैंड पूरे भरे हुए दिखे और रोहित शर्मा के नेतृत्व वाली टीम ने तीनों विभागों में विरोधियों से बेहतर प्रदर्शन किया।'