दक्षिण अफ्रीका ने लुंगी एनगिडी (29/4) की शानदार गेंदबाजी के बाद एडेन मार्करम (52) और डेविड मिलर (59) के अर्धशतकों की बदौलत भारत को टी20 विश्व कप 2022 के सुपर-12 मुकाबले में रविवार को पांच विकेट से मात दी। भारत ने ग्रुप-2 के मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को 133 रन का लक्ष्य दिया। दक्षिण अफ्रीका ने यह लक्ष्य दो गेंदें रहते हुए हासिल कर लिया। पर्थ की उछाल भरी पिच पर सूर्यकुमार यादव के अलावा सभी भारतीय बल्लेबाज असफल रहे। 

ये भी पढ़ेंः T20 World Cup 2022: पाक गेंदबाजों का कहर, बेबस दिखी नीदरलैंड की टीम, सबसे छोटा स्कोर बनाया


सूर्यकुमार ने 40 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 68 रन बनाये और भारत को 133 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका ने भी 134 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 10 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 40 रन ही बनाये थे, लेकिन मिलर और मार्करम ने इसके बाद ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए मैच की काया पलट कर दी। दोनों ने चौथे विकेट के लिये 76 रन की साझेदारी करके मैच को प्रोटियाज की झोली में डाल दिया। मार्करम 16वें ओवर में आउट हो गये, लेकिन मिलर ने आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर चौका लगाकर अपनी टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। इस जीत के साथ दक्षिण अफ्रीका ग्रुप-2 के शीर्ष पर पहुंच गई है, जबकि भारत दूसरे स्थान पर है। 

ये भी पढ़ेंः T20 World Cup 2022: एक और मैच में आखिरी गेंद तक चला रोमांच, बांग्लादेश से हारा जिम्बाब्वे


भारत की जीत पर निर्भर पाकिस्तान सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गई है।  भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी लेकिन दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने पिच के उछाल का शानदार प्रयोग किया। लुंगी एनगिडी (29/4) ने भारत को शुरुआती झटके देते हुए रोहित शर्मा, लोकेश राहुल और विराट कोहली को आउट किया। एनरिक नॉर्खिया ने दीपक हुड्डा को शून्य पर आउट किया जबकि एनगिडी ने हार्दिक पांड्या को भी पवेलियन भेज दिया। भारत के पांच विकेट 49 रन पर गिरने के बाद सूर्यकुमार ने पारी को संभाला। उन्होंने दिनेश कार्तिक के साथ 52 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की, जिसमें कार्तिक ने सिर्फ छह रन का योगदान दिया। सूर्यकुमार ने अपनी जुझारू पारी में छह चौकों और तीन छक्कों के साथ 68 रन बनाये, जबकि कोई और भारतीय बल्लेबाज 20 रन के आंकड़े को भी नहीं छू सका। पारी के 19वें ओवर में सूर्यकुमार आउट हो गये, जबकि भुवनेश्वर कुमार (04 नाबाद) और अर्शदीप सिंह (02 नाबाद) ने भारत को 20 ओवर में 133/9 के स्कोर तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका की ओर से एनगिडी ने चार ओवरों में 29 रन देकर चार विकेट झटके जबकि वेन पार्नेल ने चार ओवर में 15 रन देकर तीन विकेट हासिल किये। नॉर्खिया (चार ओवर, 23 रन) को एक विकेट प्राप्त हुआ।  भारत ने 133 रनों की रक्षा करते हुए शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका को परेशान किया। अर्शदीप सिंह ने अपने पहले ओवर में क्विंटन डी कॉक और पिछले मैच के शतकवीर राइली रूसो को पवेलियन भेज दिया। कप्तान टेम्बा बावुमा (10) ने एक बार फिर विकेट पर संघर्ष किया, लेकिन असफल रहे। भारत ने कसी हुई गेंदबाजी के दम पर दक्षिण अफ्रीका को पहले 10 ओवरों में 40/3 के स्कोर पर रोका हुआ था। दक्षिण अफ्रीका को जब 60 गेंदों पर 94 रनों की आवश्यकता थी तब मिलर-मार्करम की जोड़ी ने हाथ खोलने का निर्णय लिया। दोनों बल्लेबाजों ने अगले चार ओवरों में 45 रन जोड़े। इस दौरान मार्करम को 35 रन पर दो जीवनदान भी मिले। 

विराट कोहली ने 12वें ओवर में उनका कैच छोड़ा, जबकि रोहित अगले ओवर में उन्हें रनआउट करने से चूक गए। मार्करम ने इसका लाभ उठाते हुए 15वें ओवर में अपना अर्धशतक पूरा किया, हालांकि वह अगले ओवर में वह आउट हो गये। मार्करम ने आउट होने से पहले 41 गेंदों पर छह चौके और एक छक्का लगाकर 52 रन बनाये। ट्रिस्टन स्टब्स ने भी 18वें ओवर में अपना विकेट गंवाया, लेकिन मिलर ने अंत तक विकेट पर रहकर दक्षिण अफ्रीका की जीत सुनिश्चित की। मिलर ने 59 रनों की मैच जिताऊ पारी में 46 गेंदें खेलकर चार चौके और तीन छक्के जड़े। भारत को अपने अगले मुकाबले में बुधवार को बंगलादेश का सामना करना है, जबकि दक्षिण अफ्रीका का सामना गुरुवार को पाकिस्तान से होगा।