भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला जारी है, जिसका आज दूसरा दिन है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने 10 विकेट गंवाकर 183 रन बनाए, जबकि जवाब में भारत ने पहले दिन 21 रन बनाए हैं। इस बीच पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज कप्तान और खिलाड़ी ने एक बड़ा बयान दिया है। 

पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम टेस्ट के पहले दिन टीम इंडिया के प्रदर्शन की तारीफ में कसीदे पढ़े। इंजमाम का मानना है कि विकेट बल्लेबाजी के लिए अच्छा था। भारतीय गेंदबाजों ने इंग्लैंड को पहली पारी में 183 रन पर समेट दिया। यह वाकई शानदार है।

इंजमाम ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा कि भारत के लिए नॉटिंघम टेस्ट का दूसरा दिन बहुत महत्वपूर्ण है। अगर टीम इंडिया 300-350 स्कोर करती है, तो टेस्ट मैच का भारत के पक्ष में हो जाएगा। खिलाड़ियों को जिम्मेदारी लेनी होगी, और उनके पास बड़े खिलाड़ी हैं। मैं भारतीय खिलाड़ियों के चेहरे पर विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल हारने का दर्द देख सकता था और उस मैच में भारतीय खिलाड़ियों में जो आक्रामकता नजर नहीं आई थी, वो यहां दिखी।

वहीं, रविचंद्नन अश्विन को इस टेस्ट के प्लेइंग-11 में शामिल नहीं करने और 4 तेज गेंदबाजों के उतरने के फैसले को लेकर भले ही बहस हो रही है, लेकिन इंजमाम ने भारतीय टीम मैनेजमेंट के इस फैसले को सही ठहराया। 

उन्होंने आगे कहा कि भारत ने जिस तरह से 4 तेज गेंदबाजों और एक ऑलराउंडर को उतारकर अपनी टीम की घोषणा की, वह एक सकारात्मक संकेत था। भारत ने इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम को स्पष्ट कर दिया है कि वे आक्रामक क्रिकेट खेलेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद से टीम इंडिया की बॉडी लैंग्वेज बदल गई है। वे आक्रामकता के साथ क्रिकेट खेलते हैं, ऐसा पिछले 1-2 सालों में हुआ है।