राष्ट्रीय (पूर्वी क्षेत्र) सब जूनियर फुटबॉल चैंपियनशिप में आज खेले गए लीग मुकाबले में भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने सिक्किम को 10-0 और झारखंड ने बिहार को 2-0 से पराजित कर दिया। बिहार फुटबॉल संघ के तत्वावधान में चल रही चैंपियनशिप में आज के दोनों लीग मैच पूल बी से खेले गये।


भारतीय खेल प्राधिकरण और सिक्किम के बीच खेला गया। स्टेडियम में मौजूद दर्शक सिक्किम के छोटे-छोटे कद के खिलाडिय़ों ने अपनी तकनीक से दिल जीता। साई के खिलाडिय़ों को पहला गोल दागने के लिए 38 मिनट तक जूझना पड़ा।


मैच का पहला गोल 39वें मिनट में देवजीत राय ने दाग कर साई का खाता खोला। इसके बाद तो साई के खिलाडिय़ों ने गोल दागना शुरू कर दिया। हाफ टाइम तक साई की टीम 4-0 से आगे थी। हॉफ टाईम के बाद भी साई के हमले जारी रहे।


साई की ओर से देवजीत राय ने 39वें और 59वें मिनट में गोल दागे। एस वासुमैत्री ने 42वें, 52वें और 76वें मिनट में दागे। राजेश नैया ने 51वें मिनट में, समीर वर्मन ने 49वें मिनट में, राकेश कुमार भूईयां ने 71वें मिनट में, शुभाजीत वर्मन ने 81वें और दिगांत मंडल ने 84वें मिनट में गोल दागा। इस तरह से साई से अपना पहला लीग मुकाबला 10-0 से जीत लिया।


वहीं, दूसरा मैच मेजबान बिहार और झारखंड के बीच खेला गया। मैच में बिहार की टीम मैदान पर चार-दो-चार के परंपरागत फार्मेशन के साथ खेलने उतरी। झारखंड की टीम तीन-चार-तीन के फार्मेशन से मैदान पर खेलने उतरी। मैच शुरू होते ही दोनों टीम के खिलाडिय़ों ने एक-दूसरे के ऊपर दबाव बनाना शुरू किया। दोनों टीम की खेल तकनीक एक जैसी थी।


बिहार के स्ट्राइकर आरिफ सिद्दिकी, ओम नारायण कुमार, ङ्क्षप्रस कुमार, अतुल कुमार ने गोल दागने के कई मौके गंवाए। विशेषकर आरिफ सिद्दिकी ने 24वें मिनट में और ओम नारायण ने 28वें और 31वें मिनट में गोल दागने का अच्छा मौका गवां दिया। दोनों टीम मध्यांतर तक गोलरहित बराबरी पर रहे।


दूसरे हाफ में दर्शकों ने मेजबान टीम की पूरी हौसला अफजाई की, लेकिन खेल के 52वें मिनट में झारखंड के मिडफील्डर आभाष ङ्क्षमज ने बिहार के गोलकीपर कुलवीर के एडवांस होते ही गेंद को जाल में उलझा कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया।


1-0 से पिछड़ते ही बिहार के खिलाड़ी तेज होकर खेलने लगे। खेल रणनीति बदलते हुए बिहार के खिलाडिय़ों ने लंबे-लंबे पास के साथ खेलना शुरू किया। इसका लाभ दिखने लगा। गोल करने के मौके मिलने लगे, लेकिन बिहार के स्ट्राइकर गोल नहीं दाग पाये। इसी बीच 75वें मिनट में एक बार फिर बिहार के गोलकीपर कुलवीर की गलती का फायदा उठाते हुए झारखंड के स्ट्राइकर सिद्धांत मुखी ने दूसरा गोल दाग दिया।