ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के फाइनल मुकाबले के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने टूर्नामेंट की बेस्ट प्लेइंग इलेवन की घोषणा कर दी है.

आरोन फिंच (Aaron Finch)  की अगुवाई में कंगारुओं ने फाइनल में पड़ोसी देश न्यूजीलैंड को आसानी से आठ विकेट से हराकर पहली बार इस खिताब पर कब्जा जमाया. हैरानी वाली बात है कि आईसीसी ने जो टीम चुनी है, उसमें एक भी भारतीय गेंदबाज (Not a single Indian bowler or batsman has been included in the team that the ICC has selected) या बल्लेबाज को शामिल नहीं किया गया है. क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था ने पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को इस टीम की कमान सौंपी है.

इस टीम में ओपनर के तौर पर डेविड वॉर्नर (David Warner) और जोस बटलर (Jos Buttler) को चुना गया है. इन दोनों ही खिलाडिय़ों का पूरे टूर्नामेंट में प्रदर्शन बेहतरीन रहा. बटलर के नाम तो इस टूर्नामेंट का एकमात्र शतक दर्ज है. इस टीम के मिडिल ऑर्डर बल्लेबाजों पर नजर दौड़ाई जाए तो यहां भी एक से बढ़कर एक नाम हैं. इसमें तीसरे नंबर पर बाबर आजम, चौथे नंबर पर श्रीलंका के चरिथ असलंका, पांचवें नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के एडेन मार्करम और छठे नंबर पर इंग्लैंड के मोईन अली हैं. आईसीसी की इस टीम में एशिया से मात्र 4 लोगों को जगह मिली है.

बल्लेबाजी के बाद गेंदबाजी की बात की जाए तो यहां दो स्पिनर और तीन तेज गेंदबाजों को मौका दिया गया है. आईसीसी ने स्पिनरों में जहां श्रीलंका के वानिंदु हसरंगा और एडम जाम्पा को जबकि तेज गेंदबाजों में जोस हेजलवुड, ट्रेंट बोल्ट और एनरिच नोर्ट्जे को चुना है. आईसीसी ने इस टीम के 12वें खिलाड़ी के रूप में पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी को चुना है. शाहीन का पूरे टूर्नामेंट में प्रदर्शन बेहतरीन रहा था.

आईसीसी की टी-20 वर्ल्ड कप प्लेइंग इलेवन: डेविड वॉर्नर, जोस बटलर, बाबर आजम (कप्तान), चरिथ असलंका, एडेन मार्करम, मोईन अली, वानिंदु हसरंगा, एडम जाम्पा, जोस हेजलवुड, ट्रेंट बोल्ट, एनरिच नोर्ट्जे, शाहीन अफरीदी (12वां खिलाड़ी).