नई दिल्ली। युवा मामले एवं खेल राज्य मंत्री नीतीथ भौमिक ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा कि देश में वर्ष तक एक हजार क्रीड़ा केंद्रों की स्थापना का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा। भौमिक ने सदन में एक प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के उत्तर में कहा कि देश 2036 के ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए तैयार हैं। इसके लिए देश के कई शहरों में पर्याप्त बुनियादी ढ़ांचा तैयार हैं। 

यह भी पढ़ें- ताश के पत्तों की तरह ढह गई पाकिस्तानी टीम, बनाया ये शर्मनाक शर्मनाक रिकॉर्ड

उन्होंने अहमदाबाद और नारायणपुरा का उल्लेख करते हुए कहा कि अन्य शहरों में बुनियादी ढ़ांचा तैयार किया जा रहा है। ओलंपिक खेलों पर खर्च से संबंधित प्रश्न पर उन्होंने कहा कि उस समय होने वाले खर्च का अनुमान नहीं लगाया जा सकता। उन्होंने कहा कि सामान्य तौर पर ऐसे आयोजनों में खर्च दुगुना हो जाता है। उन्होंने कहा कि भारत ने आयोजन की तैयार शुरु कर दी है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों का ढ़ांचा तैयार किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें- हर मनोकामना पूरी करने वाली शीतला सप्तमी आज , आज जरूर करें इस चालीसा का पाठ

देश में वर्ष 2024 तक 1000 क्रीड़ा केंद्र स्थापित करने का लक्ष्य तय किया गया है। इसे समय पर प्राप्त कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि ओलंपिक खेलों के लिए बुनियादी ढ़ांचा तैयार करने के लिए निजी सरकारी भागीदारी में काम किया जा रहा है। खेल संस्थानों को मजबूत किया जा रहा है। खिलाड़यिों को सरकार के पूरे सहयोग का आश्वासन देते हुए खेल मंत्री ने कहा कि भारोत्तोलक मीराबाई चानू को स्पोर्ट इंजरी होने पर 24 घंटे के भीतर मदद दी गयी और इलाज के लिए विदेश भेजा गया। इसके उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतकर भारत का मान बढ़ाया।