सूरत। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni, former captain of Indian cricket team) ने इंडिया सीमेंट्स द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम 'विटनेस द पॉवरऑफ7' में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के नए प्रवेशकों शिवम दुबे और राजवर्धन हैंगरगेकर से मजाक करते हुए कहा कि उन्हें फुटबॉल में कौशल को सुधारने के लिए कहा गया है। दरअसल, जब हैंगरगेकर से सूरत में सीएसके शिविर में धोनी के साथ अपनी पहली बातचीत के बारे में पूछा गया, तो धोनी ने हस्तक्षेप किया और कहा, 'उन्हें अपने फुटबॉल कौशल में सुधार करने के लिए कहा गया है।' 

यह भी पढ़ें- इंडियन आर्मी का जलवा, बस एक साल में इतने आतंकवादियों को सुलाया मौत की नींद

सूरत में सुपर किंग्स के शिविर में धोनी के साथ अपनी पहली बातचीत के बारे में बताते हुए, हैंगरगेकर ने उन्हें अब तक मिली स्वतंत्रता के बारे में बहुत कुछ बताया। हैंगरगेकर ने कहा, 'अभ्यास के पहले दिन एमएस भाई ने मुझसे कहा कि जो तुम पहले से कर रहे हो, वही करो। कुछ भी मत बदलो। बस वही करते रहो, जो तुम अच्छा कर रहे हो। यह मेरे लिए वास्तव में एक अच्छी सलाह थी, कि मुझे वह करने की आजादी है जो मैं कर रहा हूं।' 

उन्होंने कहा, 'मुझे यह मौका देने के लिए मैं सीएसके परिवार का आभारी हूं। मैं टीम के लिए मैदान पर अपना सब कुछ दूंगा और सीएसके को फिर से गौरवान्वित करूंगा।' दुबे ने सीएसके के साथ अपने अनुभव को भी साझा किया और कहा, 'हम सूरत में अभ्यास और यहां की सुविधाओं का आनंद ले रहे हैं। सब कुछ वैसा ही है जैसा हम चाहते हैं। हम इसका भरपूर आनंद ले रहे हैं, हमारे लिए यह अधिक महत्वपूर्ण है और हम सही तरीके से काम कर रहे हैं।' 

यह भी पढ़ें- तो क्या कभी भी गिर सकती है इमरान खान की सरकार, इतने सांसदों ने की बगावत

उन्होंने कहा, 'हर कोई बहुत उत्साहित है, यह 15-20 दिनों का समय उन्हें एक-दूसरे के साथ अघुल मिलने के लिए अतिरिक्त समय देगा। सूरत में सुविधाएं उत्कृष्ट हैं। हमें जो कुछ भी चाहिए, हमें मिला है। सुविधा, स्वागत और आतिथ्य बहुत अच्छा रहा है।' गौरतलब है कि सुपर किंग्स अपने आईपीएल 2022 अभियान की शुरुआत 26 मार्च को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ करेगी।