भारत के खिलाफ टी20 विश्व कप (T20 World Cup) में होने वाले महामुकाबले से पहले पाकिस्तान टीम (Pakistan team)  को झटका लगा है. पाकिस्तान के हाई परफॉर्मेंस कोचिंग प्रमुख ग्रांट ब्रैडबर्न (coaching chief Grant Bradburn) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. न्यूजीलैंड के पूर्व टेस्ट क्रिकेटर ब्रैडबर्न (Zealand Test cricketer Bradburn) 3 साल से पीसीबी से जुड़े थे. वो सितंबर 2018 से जून 2020 के बीच पाकिस्तान क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच भी थे. इसके बाद उन्होंने कोचिंग की जिम्मेदारी संभाली.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) द्वारा जारी एक बयान में ब्रैडबर्न ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट के साथ काम करना गर्व की बात रही. मैं सुनहरी यादों और शानदाार अनुभव के साथ विदा ले रहा हूं. मैं पीसीबी का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा कि उन्होंने मुझे भी सीखने का सीखने का बेहतरीन मौका दिया. 

रमीज राजा ( Rameez Raja) के पीसीबी चेयरमैन बनने के बाद से पद छोडऩे वाले ब्रैंडबर्न पांचवें आला अधिकारी हैं. उनसे पहले पाकिस्तान के मुख्य कोच मिसबाह उल हक (Pakistan's head coach Misbah-ul-Haq) , गेंदबाजी कोच वकार युनूस (Bowling coach Waqar Younis) , सीईओ वसीम खान और मार्केटिंग हेड बाबर हमीद पद छोड़ चुके हैं.

55 साल के ब्रैडबर्न ने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल के चलते वह परिवार के साथ समय नहीं बिता पा रहे थे. उन्होंने आगे कहा कि मेरी पत्नी मारी और तीन बच्चों ने भी मुझे पाकिस्तान क्रिकेट की सेवा करने की अनुमति देकर बहुत त्याग किया है. कोविड-19 नियमों ने उनके लिए पाकिस्तान का दौरा करना और इस देश की गर्मजोशी, प्यार और दोस्ती को महसूस करना चुनौतीपूर्ण बना दिया. अब मेरे लिए परिवार को प्राथमिकता देने और अगली कोचिंग चुनौती के लिए आगे बढऩे का समय है.

ब्रैडबर्न ऑफ स्पिन गेंदबाजी करते थे. उन्होंने 1990 से 2001 तक न्यूजीलैंड के लिए 7 टेस्ट और 11 एकदिवसीय मैच खेले. ब्रैडबर्न ने न्यूजीलैंड-ए और न्यूजीलैंड अंडर-19 टीम को भी कोचिंग दी. उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने देश में संचालित हो रहे सभी हाई परफॉर्मेंस सेंटर में काम कर रहे सपोर्ट स्टाफ के ट्रेनिंग के स्तर को ऊंचा उठाने की जिम्मेदारी दी थी.