पाकिस्तान कैबिनेट ने मौजूदा राजनीतिक तनाव के कारण पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच आने वाली क्रिकेट सीरीज के लाइव टेलिकास्ट के लिए भारतीय कंपनी के साथ अनुबंध के प्रस्ताव को मंगलवार को ठुकरा दिया। सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कैबिनेट की बैठक के बाद मीडिया को बताया कि पाकिस्तान टेलीविजन (पीटीवी) ने सरकार से मैचों के टेलिकास्ट के लिए स्टार और सोनी से करार पर साइन का आग्रह किया था।

फवाद ने कहा, 'कैबिनेट ने इंग्लैंड-पाकिस्तान क्रिकेट सीरीज के प्रसारण के लिए स्टार और सोनी से करार के पीटीवी के आग्रह को ठुकरा दिया है।' फवाद ने कहा कि इमरान खान सरकार पहले ही स्पष्ट कर चुकी है कि भारत के साथ रिश्ते 5 अगस्त 2019 की कार्यवाही को पलटने पर निर्भर करेंगे। वह जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को हटाए जाने के बारे में बात कर रहे थे। उन्होंने कहा, 'जब तब उस कार्यवाही को वापस नहीं लिया जाता तब तक भारत के साथ हमारे रिश्ते सामान्य नहीं हो सकते।'

फवाद ने कहा कि स्टार और सोनी का दक्षिण एशिया की सभी क्रिकेट इवेंट्स पर एकाधिकार है और भारतीय कंपनी के साथ करार नहीं होने की स्थिति में पाकिस्तान में सीरीज का टेलिकास्ट नहीं किया जाएगा। उन्होंने हालांकि कहा कि सरकार इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड और अन्य विदेशी कंपनियों से टेलिकास्ट अधिकार हासिल करके बीच का रास्ता निकालने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट के फैसले से पीटीवी और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को वित्तीय नुकसान का सामना करना पड़ेगा। पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच क्रिकेट सीरीज 8 जुलाई से शुरू होनी है।