सिक्किम से मजदूरी कर घर लौट रहा एक 35 वर्षीय मजदूर नशाखुरानी गिरोह का शिकार हो गया। अपराधियों ने उसे नशा खिलाकर उसके पास से 25 हजार रुपये और 12 हजार रुपये मूल्य के मोबाइल एवं अन्य सामान लूट लिए। वह बेहोशी की हालत में गाजीपुर चौक के पास पाया गया।

इस संबंध में बरियारपुर पंचायत के पूर्व पैक्स प्रतिनिधि दरोगा पासवान ने जानकारी देते हुए बताया कि राजापाकर प्रखंड की बाकरपुर पंचायत के कुतुबपुर निवासी रघुनाथ पासवान का 35 वर्षीय पुत्र मोहन पासवान जो रिश्ते में उनका भांजा लगता है, सिक्किम में रहकर मजदूरी करता था। सिक्किम से वह अपने घर लौट रहा था कि यह घटना घटी। उसके पास के बैग से सामान व रुपये गायब थे। 

स्थानीय लोगों ने उसके पाकिट की जांच की तो उसमें एक आधार कार्ड पाया गया। जिसके आधार पर उसके घर का पता चला एवं नाम- पता से कुछ लोगों ने दरोगा पासवान के संबंधी होने की पुष्टि की। उसके बाद उन्हें फोन किया गया। परिजन भी घटना की सूचना पाकर दौड़े-दौड़े गाजीपुर चौक पहुंचे एवं उसे घर लाया जहां ग्रामीण चिकित्सकों द्वारा उसका उपचार किया जा रहा था।