गंगटोक। यूक्रेन से आए सिक्किम के छात्रों से मुख्यमंत्री पीएस तामांग ने गुरुवार को बातचीत कर उन्हें आश्वस्त किया कि उनकी शिक्षा जारी रखने के लिए सिक्किम सरकार की ओर से हर संभव मदद की जाएगी। मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तामाग की मौजूदगी में मंत्री श्री के.एन. लेप्चा, मंत्री डॉ. एम.के. शर्मा, और एचसीएम के राजनीतिक सचिव, जैकब खालिंग ने सिक्किम के उन छात्रों से बातचीत की, जिन्हें यूक्रेन से निकाला गया था। 

यह भी पढ़ें- Manipur Winning Candidates List : मणिपुर विधानसभा चुनावों के फाइनल रिजल्ट जारी, देखें जीतने वाले उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में छात्रों और उनके अभिभावकों का स्वागत किया। उन्होंने छात्रों को प्रेरित किया और उनकी शिक्षा जारी रखने के लिए सिक्किम सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पहले ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को यूक्रेन में सिक्किम के छात्रों की स्थिति और बेहतर भविष्य के संबंध में पत्र लिख चुकी है। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, विदेश सचिव, भारत सरकार, हर्षवर्धन श्रृंगला, रेजिडेंट कमिश्नर, सिक्किम हाउस, नई दिल्ली, अश्रि्वनी चंद, आईपीएस के प्रति छात्रों को सुरक्षित रखने के लिए आभार व्यक्त किया। 

यह भी पढ़ें- UP chunav result 2022: डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भारी पड़ीं पल्लवी पटेल, पहले राउंड से अंतिम तक रोचक बना रहा मुकाबला

यूक्रेन से सिक्किम के छात्रों को निकाला जा रहा है। कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री ने ताशीलिंग सचिवालय तोड़फोड़ मामले को सुलझाने वाले पुलिस अधिकारियों और कर्मियों को सम्मानित किया।