सिक्किमीली साहित्य के नक्षत्र मानेजाने वाले वेदातचार्य और भानु पुरस्कार से पुरस्कृत वरिष्ठ साहित्यकार उदयचंद्र वशिष्ठ (यूसी वशिष्ठ) का कल शाम को निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे।

उन्होंने पूर्वी सिक्किम के रिनक तारपिन स्थित अपने निजी आवास वशिष्ठ कुटीर में अपनी अंतिम सास ली। वह 91 वर्ष के थे। नेपाली साहित्यिक भंडार में एक दर्जन से ज्यादा कृति देने वाले वशिष्ठ ने अपने पीछे पत्नी, दो बेटे, दो बेटी और पोते-पोतियों को छोड गए है।

उनको याद करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तामाग ने उनके निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने आज अपने सोशल मीडिया हेंडल में लिखा है साहित्यकार उदयचंद्र वशिष्ठ की निधन के सूचना से उन्हें बड़ा दुख हुआ।