भारत अब चीन को हर मोर्चे पर टक्कर देने वाला है। क्योंकि हिमालय की गोद में बसा छोटा सा राज्य सिक्किम (sikkim) अगले 2 सालों में रेल मार्ग के जरिए पूरे भारत से जुड़ जाएगा। सेवोक-रांगपो रेलवे लाइन 2023 तक चालू हो जाएगी। इसके बाद इस राज्य में आवाजाही आसान होगी। यह रेल प्रोजेक्ट भू-रणनीति के तौर पर भी महत्वपूर्ण है क्योंकि भारत के इस राज्य की सीमा चीन, नेपाल और भूटान से लगती है। इसके अलावा, रेलवे लाइन सीमावर्ती राज्य को विशेष रूप से मानसून के दौरान सहायता प्रदान करेगी जब सिक्किम राष्ट्रीय राजमार्ग 10 पर नियमित भूस्खलन के कारण कई दिनों तक कट जाता है।

नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे (NEFR) के के अनुसार सेवोक-रांगपो रेल लाइन 2023 तक संचालित हो जाएगी।। यह रेल लाइन बंगाल के सिलीगुड़ी से करीब 20 किलोमीटर की दूरी पर है।  इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट की नींव साल 2009 में तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी ने डाली थी और इसे साल 2015 तक पूरा हो जाना था। भूमि संबंधी अड़चनों और कठिन भू भाग होने के बावजूद यह परियोजना साल 2023 तक पूरी हो जाएगी।

रेलवे (Indian Railway) के अनुसार प्रधानमंत्री कार्यालय और रेलवे बोर्ड ने इस प्रोजेक्ट के पूरा होने के लिए दिसंबर 2023 तक की डेडलाइन तय की है। प्रोजेक्ट से जुड़े इंडियन रेलवे कंस्ट्रक्शन कंपनी के मुताबिक, अभी तक इस परियोजना का 30 फीसदी काम पूरा हो चुका है।