सिक्किम की SDF पार्टी ने राज्य की पीएस गोले सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। पार्टी ने ONORC, NRC, CAA जैसी योजनाओं को लेकर सरकार पर सवाल उठाया है। इतना ही नहीं बल्कि इस पार्टी ने अपनी सरकार के समय की तुलना भी वर्तमान सरकार की योजनाओं से की है।


8 लोग, लोग बैठ रहे हैं, लोग खड़े हैं और अंदर की फ़ोटो हो सकती है


SDF की तरफ से कहा गया है कि सिक्किम के सभी लोगों का यह तथ्य सर्वविदित है कि SDF पार्टी ने सत्ता बचाने के लिए किसी से समझौता नहीं किया। पूर्व मुख्यमंत्री पवन चामलिंग के नेतृत्व में, एसडीएफ पार्टी की सरकार ने सिक्किम और सिक्किमेली के लोगों को, हमारे राज्य के अस्तित्व और स्वार्थ को नुकसान पहुंचाने के लिए कुछ नहीं किया। पिछले 5 साल से सिक्किम पर सिक्किम का राज था,

8 लोग और लोग बैठ रहे हैं की फ़ोटो हो सकती है

पार्टी की तरफ से कहा गया है कि सिक्किम सिक्किम का मालिक था। बाहरी ताकतों के इरादे को कभी कामयाब न होने दें जो सिक्किम को हासिल करना चाहते थे। सिक्किम और सिक्किम को पूरी तरह सुरक्षित रखकर प्रदेश को विकसित प्रगतिशील राज्य बनाकर देश और दुनिया में कृतार्थ किया।

आकाश और वह टेक्स्ट जिसमें 'SD' लिखा है की फ़ोटो हो सकती है

SDF की तरफ से आरोप लगाया गया है कि अब सिक्किम की हालत SDF युग जैसी नहीं है। प्रदेश में ONORC, NRC, CAA जैसी घातक योजनाएं लागू की गई हैं। सिक्किम की मिट्टी और विरासत बाहरी सत्ता और कंपनियों के हाथों में पहुंच चुकी है। एसकेएम सरकार ने राज्य में अपने पद और सत्ता बचाने के लिए केंद्रीय योजनाओं को लागू करके सिक्किम के पुराने कानूनों को पहले ही खतरे में डाल दिया है। सिक्किम की धरोहर मिट्टी को बाहर की कंपनियों को बेचकर राज्य के अस्तित्व को मिटाने का काम कर रही है। एसकेएम सरकार के स्वार्थी कार्यों ने आज सिक्किम की क्षेत्रीय भावनाओं को भयानक रूप से आहत किया है।


6 लोग, लोग बैठ रहे हैं, लोग खड़े हैं और अंदर की फ़ोटो हो सकती है


एसडीएफ के प्रचार सचिव विष्णु दुलाल ने पार्टी के फेसबुक पेज पर लिखा है कि सभी को यह इजाजत है कि पवन चामलिंग ने अपने कार्यकाल में सदेव प्रदेश के विकास के लिए प्रतिबद्ध जनता द्वारा दी गई जिम्मेदारी को प्राथमिकता देते हुए माना बक्खा कर्मा के साथ सेवा की। सिक्किम और सिक्किम को कभी सर झुकने नहीं देना चाहिए। पवन चामलिंग ने जनसेवा और प्रदेश के प्रति कर्तव्य को प्रथम प्राथमिकता देकर ईमानदारी से निभाया। चामलिंग ने पद और सत्ता बचाने के लिए किसी से समझौता नहीं किया, क्योंकि उन्हें सिक्किम और सिक्किमेली की जनता से प्यार है, वे पद से अधिक सिक्किम को तरजीह देते हैं, आज उनके कुशल और सफल नेतृत्व की आवाज चारों तरफ सुनाई दे रही है।


13 लोग, लोग बैठ रहे हैं, लोग खड़े हैं, बाहर और वृक्ष की फ़ोटो हो सकती है

दुलाल ने कहा है कि पवन चामलिंग की इस महानता को देखकर प्रदेश के लिए उनके योगदान, तपस्या, प्रेम और दीर्घकालीन विकास की भूमि खोदकर प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने की पहल को देखकर जनता कह रही है कि फिर से पवन चामलिंग तो हा दूसरा सिक्किम के ऊपर, जो लठालिंग कर रहा है। त्रिमूर्ति में सरकार बनाना बहुत जरूरी है। मौजूदा राजनीतिक हालात देखकर और पवन चामलिंग के नेतृत्व की तुलना करके लोग कह रहे हैं कि SDF ही बेहतर था।