स्वास्थ्य, खुशी और सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता का संदेश एसडीएफ सुप्रीमो पवन चामलिंग ने सोमवार को वर्चुअल बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं को दिया है। उन्होने कहा कि सिक्किम में लोकतंत्र अब सिक्किम के लोगों के हाथों में नहीं है, बल्कि इसे बाहरी ताकतों के द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है।

सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के अध्यक्ष तथा पूर्व मुख्यमंत्री पवन चामलिंग ने पश्चिम जिले के लिए पार्टी द्वारा नव नियुक्त पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की। बैठक के दौरान अध्यक्ष चामलिंग ने पार्टी कार्यकर्ताओं को कोविड महामारी में कार्यकर्ताओं को उत्साहित करने का संदेश दिया। उन्होंने इस संकटपूर्ण स्थिति में पार्टी की भूमिका को लेकर कार्यकर्ताओं को दिशा निर्देश भी दिया।

एसडीएफ पार्टी के पश्चिम जिला प्रचार सचिव जीएस रीजाल के द्वारा जारी विज्ञप्ति में उक्त जानकारी देते हुए कहा गया है कि पार्टी अध्यक्ष चामलिंग ने इस संकटमय परिस्थिति में स्वास्थ्य, खुशी और सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देने का संदेश दिया है। पवन चामलिंग ने कहा है कि जीवन ही सबसे महत्वपूर्ण है, और एसडीएफ एक ऐसी पार्टी है जिसने हमेशा लोगों के स्वास्थ्य, खुशी और सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। एसडीएफ ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को इस संकटकाल में लोगों की मदद के लिए आगे आने का आह्वान करते हुए जो लोग जहां भी रहते हैं वहां पर ही समाज के लोगों की मदद करें। उन्होंने सभी से इस महामारी के दौरान जिम्मेदारी लेने की अपील करते हुए जिम्मेदार पार्टी कार्यकर्ता और सिक्किम के नागरिक बनने का आग्रह किया।

अध्यक्ष चामलिंग ने इस संकट से निपटने में सरकार की विफलता और वर्तमान सिक्किम में लोकतात्रिक मूल्यों के बिगड़ने की ओर इशारा किया। उन्होंने कहा कि एसकेएम सरकार के द्वारा सिक्किम में लोकतंत्र का हनन किया गया है। सिक्किम में लोकतंत्र अब सिक्किम के लोगों के हाथों में नहीं है, बल्कि इसे बाहरी ताकतों के द्वारा नियंत्रित किया गया है। ऐसे संकट में पार्टी अध्यक्ष चामलिंग ने पार्टी कार्यकर्ताओं से नेतृत्व की भूमिका निभाने अपील की। उन्होंने कहा कि सिक्किम को इस तरह के खतरनाक विकास से बचाने में सक्रिय भूमिका निभाने का आग्रह किया। पवन चामलिंग ने नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई देते हुए उन्हें पश्चिम जिला का नेतृत्व संभालने और हर स्तर पर पार्टी की गतिविधियों को सुनिश्चित करने के लिए प्रोत्साहित किया।