सिक्किम में पिछले 3 दिन से जारी बारिश के कारण सड़क मार्ग अवरुद्ध हो रहे हैं। यहां की जीवन रेखा कहे जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 10 (NH-10) पर भूस्खलन होने से वहां वाहनों का आवागमन वन-वे कर दिया गया है, जबकि 32 नंबर परिसर स्थित एस टर्निग पर भूस्खलन होने से एक बार में केवल एक ही वाहन के निकलने का रास्ता बचा है। अभी उक्त मार्ग की मरम्मत करने के बाद दोनों साइड चालू होने में कुछ समय लग सकता है। वैसे वाहनों का आवागमन एक तरफ से हो रहा है। इसी तरह पाकिम जिले के पाचे सामसिंग रेवेन्यू ब्लाक स्थित पाचे पुल भूस्खलन से क्षतिग्रस्त हुआ है।

यह भी पढ़ें : काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में लगाए गए 6 कैमरे, जानिए अब कितनी होनी चाहिए आपकी गाड़ी की स्पीड

भूस्खलन के कारण सड़क मार्ग पूर्णरूप से अवरुद्ध हो गया है। इसके बाद पाकिम के जिलाधिकारी थेंडुप लेप्चा अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे और मौके का निरीक्षण किया। इसके बाद प्रशासन को जल्द से जल्द समस्या दूर करने का निर्देश दिया तथा कहा कि वैकल्पिक मार्ग के रूप में माछोंग संपर्क मार्ग से वाहन निकालने की व्यवस्था की जाए। भूस्खलन से माछोंग, पारखा, बड़ापाथिंग, लिंके, रोलेप, रोलेप-रंगेली के लोगों को पाकिम जिला मुख्यालय से संपूर्क टूट गया है। उत्तर सिक्किम के जिलाधिकारी डा. एबी कार्की ने बताया कि उत्तर जिले के विभिन्न स्थानों पर बारिश के कारण भूस्खलन हो रहा है, लेकिन बीआरओ की सक्रियता में कहीं भी सड़क मार्ग अवरुद्ध नहीं है।

यह भी पढ़ें : असम कैबिनेट विस्तार के बाद भाजपा सदस्यों की संख्या 11 से बढ़ कर हुई 13

निरीक्षण के क्रम में पाकिम महकमा अधिकारी ने लाइन विभाग के अधिकारियों को यहा की समस्या के समाधान के लिए माछोंग के संपर्क मार्ग को वैकल्पिक मार्ग तय करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही ग्रामीण विकास विभाग (आरडीडी) को पीने के पानी समेत अन्य सुरक्षात्मक स्थान और ग्रामीणों की तत्काल पुनः स्थापना करने का भी निर्देश दिया। प्रशासनिक केंद्र के द्वारा थप क्षति से बचने के लिए प्रभावित क्षेत्रों को तिरपाल से ढका गया है। भूस्खलन से माछोंग, पारखा, बड़ापाथिंग, लिंके, रोलेप, रोलेप-रंगेली के नागरिकों को पाकिम जिले से पूर्ण रूप से संपर्क टूट गया है। वैसे अबी तक कोई अप्रिय घटना की जानकारी नहीं है।