राज्य में जारी संपूर्ण लाकडाउन की अवधि बढ़ाकर 14 जून कर दी गई है। लाकडाउन को चौथी बार बढ़ाया गया है। यह निर्णय मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तामाग (गोले) की अध्यक्षता में हुई उच्चस्तरीय बैठक में लिया गया है। सम्मान भवन में आयोजित बैठक में राशन और साग-सब्जियों की दुकानें सुबह 7 से दोपहर 02 बजे तक खोलने,हार्डवेयर दुकानों को भी सात से दो बजे तक खोलने की अनुमति है। उल्लेखनीय है कि तीसरे चरण के लाकडाउन में मदिरा पसलों को खोलने की अनुमति दी गई थी।

इसके अतिरिक्त चौथे चरण में विभाग प्रमुखों को सभी सरकारी कार्यालय 30 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति में संचालन तंत्र तैयार करने की निर्देश दी गई है। बैठक में राज्य सरकार द्वारा जून माह में 18 वर्ष से 44 वर्ष की उम्र के 65 हजार लोगों को वैक्सीन की डोज दी जाएगी। इसके लिए राज्य के नामित स्वास्थ्य केंद्रों में जल्द ही टीकाकरण शुरू किया जाएगा। सभा में ब्लैक फंगस की उपचार के लिए एक कोर टीम गठन करने का भी निर्णय लिया गया है।

बैठक राज्य सरकार के मुख्य सचिव एससी गुप्ता ने राज्य में कोविड-19 स्थिति में आई सुधार बारे जानकारी दी। उन्होंने कोरोना जाच प्रक्रिया बढ़ाने के बाद पॉजिटिव मामलों के दर में कमी आई है कहा। मुख्य सचिव ने इस समय कोविड-19 की स्थिति स्थिर है इसकी जानकारी दी। उन्होंने सरकार के द्वारा गत दो महिने से किए गए पहल प्रभावी है कहा। इसके साथ ही राज्य के स्वास्थ्य विभाग के सचिव डॉ. पेंपा टी भूटिया ने कोरोना पॉजिटिव मामले उल्लेखनीय रूप से घट रहे है और रिकवरी रेट में बढ़ोतरी हुई है कहा। सचिव भूटिया ने राज्य के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन और अन्य महत्वपूर्ण उपकरणों की स्थिति बारे भी जानकारी दी।

इस उच्च स्तरीय बैठक में एसटीएनएम अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. केबी गुरुंग ने अस्पताल में कोविड प्रबंधन की समग्र स्थिति, कोविड-19 प्रबंधन सामूहिक सदस्य कर्मा नामग्याल भूटिया ने राज्य में ऑक्सीजन की उपलब्धता और ऑक्सीजन संयंत्र की जड़ान संबंधित प्रतिवेदन, ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव सीएस राव ने कोविड केयर सेंटर और कोविड केयर किट, स्पेशल डीजीपी अक्षय सचदेवा ने राज्य में कानून व्यवस्था विषय में जानकारिया दी। इसी प्रकार पूर्व जिला के जिलापाल रगुल के. ने कोरोना संक्रमित बच्चों को ध्यान में रखते हुए बाल चिकित्सा आईसीयू सुविधा स्थापना करने का सुझाव दिया। बैठक में डीजीपी एसडी नेगी, श्रम विभाग की सचिव नम्रता थापा, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार सीपी शर्मा आदि ने अपने सुझाव रखे थे।