सिक्किम भारत का एक बहुत ही खूबसूरत और छोटा राज्य है, जो अपनी प्रकृति, जानवरों, नदियों, झीलों और सुंदर झरनों के लिए जाना जाता है। अगर आप छुट्टियों में घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो सिक्किम से बेहतर जगह आपको कहीं नहीं मिल सकती। यहां की चोटियां, पवित्र झीलें, शानदार ट्रैकिंग करनी की जगह सिक्किम को एक परफेक्ट प्लेस बनाती हैं। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह राज्य बिल्कुल बेस्ट है। सिक्किम की प्लानिंग करने से पहले यहां की कुछ बेस्ट जगहों के बारे में पढ़ लें, हमें यकीन है कि इन जगहों को पढ़ने के बाद आपका मन भी सिक्किम जाने का करने लगेगा।

सिक्किम की राजधानी गंगटोक शिवालिक पहाड़ियों के ऊपर 1437 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। गंगटोक दुनिया की सबसे ऊंची चोटियों में से एक है, जहां से आप कंचनजंगा के खूबसूरत नजरों को देख सकते हैं। गंगटोक सिक्किम का प्रमुख और मशहूर पर्यटन स्थल है। यहां की घुमावदार सड़कें और पहाड़ियां, लोगों को सबसे ज्यादा आकर्षित करती हैं। रोमांच प्रेमियों के लिए ये जगह एकदम परफेक्ट है। अगर आप गंगटोक में घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो यहां नाथुला पास, एमजी रोड, ताशी व्यू पॉइंट, हनुमान टोक, रेशी हॉट स्प्रिंग्स, हिमालयन जूलॉजिकल पार्क, बाबा हरभजन सिंह मंदिर, गणेश टोक, त्सुक ल खंग मोनेस्ट्री, बेस्ट जगहों में से एक हैं। इस आकर्षक शहर को घूमने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से दिसंबर के बीच है।

युकसोम, सिक्किम 

युकसोम सिक्किम के मशहूर पर्यटक स्थलों में शामिल है। ये जगह अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जानी है। युकसोम हर-भरे पहाड़ों से ढका हुआ है, अगर आप कंचनजंगा पर्वत जाना चाहते हैं, तो ये जगह आधार शिविर के रूप में कार्य करती है। दोस्तों के साथ जाने के लिए सिक्किम की युकसोम जगह एकदम परफेक्ट है। यहां कई ऐतिहासिक स्मारक, प्राचीन मठ, शांत झरने और झीलें मौजूद हैं, जिन्हें देखकर दिल खुश हो जाता है। अगर आप युकसोम में घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो यहां खेचोपलरी झील, ताशीदिंग मठ, डबडी मठ, कंचनजंगा नेशनल पार्क, ताशी तेनका, कटोक मठ, बेस्ट जगहों में से एक हैं। इस जगह पर जाने के लिए सबसे बेस्ट महीने मार्च, अप्रैल, मई और जून हैं।

त्सोमो झील, सिक्किम 

आपकी जानकारी के लिए हम बता दें, त्सोमो झील नाथू ला राजमार्ग पर समुद्र तल से 12400 फीट की ऊंचाई पर पहाड़ों पर मौजूद है। ये झील भारत की सबसे ऊंची झीलों में शामिल है। सिक्किम की यात्रा करने वाला हर व्यक्ति, इस जगह को घूमने के लिए जरूर आता है। बर्फ से लदे पहाड़ और घने जंगलों के के बीच मौजूद ये झील किसी स्वर्ग से कम नहीं लगती। सिक्किम के लोग इस झील को एक पवित्र झील भी मानते हैं। नाथुला दर्रा घूमने का सबसे अच्छा समय मई से नवंबर तक का है। इस समय यहां का तापमान 10 डिग्री सेल्यिस रहता है।

पेलिंग, सिक्किम

इनके अलावा आप सिक्किम के पश्चिम जिले का एक खूबसूरत शहर पेलिंग भी जा सकते हैं। ये शहर गंगटोक के बाद दूसरा बड़ा टूरिस्ट प्लेस है। शानदार पेलिंग शहर समुद्र तल से 6800 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां पर्यटक शांतिपूर्ण समय बिताने के साथ-साथ ट्रेकिंग, माउंटेन बाइकिंग, रॉक क्लाइम्बिंग जैसी अट्रेक्टिव एक्टिविटीज को भी एन्जॉय करते हैं। पेलिंग के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस में पेलिंग हेलीपैड, सांचाचेलिंग मठ, पेमायांग्त्से मठ, दराप ग्राम, रिम्बी नदी, रिम्बी झरना, शामिल हैं। पेलिंग मानसून के मौसम के अलावा आप किसी भी समय घूम सकते हैं।

रवांगला, सिक्किम

रवांगला दक्षिण सिक्किम में एक छोटा शहर है, जो 7000 फीट की ऊंचाई पर बसा हुआ है। ये जगह अपने बर्फ के पहाड़ों, झरनों, सुंदर चाय के बागानों, शांतिपूर्ण गांवों, संस्कृति, पुराने मठों के लिए मशहूर है। इस जगह की खूबसूरती इतनी देखने लायक है कि यहां हर साल पर्यटकों की भीड़ जमा रहती है। रवांगला के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस में बौद्ध पार्क, रलंग मठ, बोन मठ, डोलिंग गोम्पा, रेयॉन्ग सनराइज व्यूपाइंट, रालोंग हॉट स्प्रिंग्स, टेमी टी गार्डन शामिल हैं। रवांगला आप सर्दियों के महीनों को छोड़कर किसी भी समय घूम सकते हैं

गुरुडोंगमार झील 

गुरुडोंगमार झील सिक्किम में समुद्र तल से 17,100 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है। 18,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित चोलमू झील के बाद सिक्किम की दूसरी सबसे बड़ी झील गुरुडोंगमार झील आती है। इस झील की सुंदरता दुनियाभर के पर्यटकों को आकर्षित करती है। इस झील में बर्फ का पानी और आसपास बर्फ से ढके पहाड़, आपको वहां पूरा दिन बिताने को मजबूर कर सकते हैं। ऐसा माना जाता है कि इस झील में बीमारियों को ठीक करने की शक्ति है, जिसकी वजह से पर्यटक यहां से सपने साथ कुछ मात्रा में पानी जरूर लेकर जाते हैं।