देश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हालांकि पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम अभी भी कोरोना से अछूता है। ऐसे में एहतियान प्रदेश ने इस साल अक्‍टूबर तक अपने यहां पर्यटकों के आने पर पाबंदी लगा दी है। बता दें कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशभर लागू लॉकडाउन के संबंध में 15 अप्रैल को केंद्र की ओर से जारी समेकित संशोधित दिशानिर्देशों का पालन करते हुए सिक्किम में 20 अप्रैल को सरकारी कार्यालयों में कामकाज शुरू हो गया था।

कोरोना वायरस के मद्देनजर देश में लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाया गया है। इस दौरान राज्य सरकार के कार्यालय खुले और रोस्टर के आधार पर एक तिहाई कर्मचारी उपस्थित हुए। राज्य सरकार ने सिक्किम राष्ट्रीयकृत परिवहन (एसएनटी) की तीन बसों को कर्मचारियों को लाने-ले जाने के लिये परिचालन की अनुमति दी है।

राज्य में कृषि एवं निर्माण गतिविधियां शर्तों के साथ शुरू हुयी हैं, किसानों से सामजिक मेल जोल से दूरी बनाये रखने के लिये कहा गया है और निर्माण कार्य केवल स्थानीय श्रमिकों के द्वारा किया जायेगा।निर्माणाधीन बिजली परियोजनायें और दवाओं तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं के निर्माण की भी अनुमति दी गयी है। निर्माण में काम आने वाली वस्तुओं की ढुलाई में लगी ट्रकों एवं भारी वाहनों स्क्रीनिंग के बाद ही सिक्किम की सड़कों पर आने की अनुमति दी गई।