सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तामांग ने नई दिल्ली के विज्ञान भवन में केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति और पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास मंत्री जी किशन रेड्डी से मुलाकात की। सीएम तामांग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पूर्वोत्तर विकास पहल (पीएम-डेवाइन) को मंजूरी देने के लिए केंद्रीय मंत्री और केंद्रीय मंत्रिपरिषद का आभार व्यक्त किया। उन्होंने पश्चिम सिक्किम में पेलिंग से सांगा-छोएलिंग तक यात्री रोपवे प्रणाली और दक्षिण सिक्किम में धप्पर से भालेढुंगा तक यात्री रोपवे के डिजाइन, आपूर्ति, स्थापना, परीक्षण और कमीशनिंग के लिए गैप फंडिंग के रूप में निर्धारित राशि के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं की सिफारिश राज्य स्तरीय अधिकार प्राप्त समिति द्वारा की गई है, और डीपीआर डोनर मंत्रालय को प्रस्तुत किया गया है।

यह भी पढ़ें- असम के दो फिल्म समीक्षकों को इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म क्रिटिक्स के सदस्य के रूप में चुना गया

मंत्रालय को प्रस्तुत प्रस्तावों पर बोलते हुए, मुख्यमंत्री ने पाकयोंग हवाई अड्डे के पास खिलौना संग्रहालय और सांस्कृतिक प्रयोगशाला, युवा संस्कृति और सम्मेलन केंद्र तथा केवजिंग में भूटिया समुदाय के लिए टैगोर सांस्कृतिक केंद्र स्थापना करने के लिए सहयोग मांगा। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सिक्किम के लिए राज्य विशिष्ट परियोजनाओं के तहत 15वें वित्त आयोग द्वारा अनुशंसित कुछ प्रस्तावों को आगे बढ़ाएगी, साथ ही मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री से उनके विचार के लिए अनुरोध भी किया।

यह भी पढ़ें- बिहार के चोरों का बड़ा कारनामा! सुरंग खोदकर चुरा लिया रेल का इंजन, जानिए कहां और कैसे


पाकयोंग स्थित ग्रीनफील्ड हवाईअड्डे से उड़ानें अचानक बंद होने के कारण पर्यटन क्षेत्र को हुए नुकसान पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने केंद्रीय मंत्री से अनुरोध किया कि वे उड़ान संचालन की बहाली के लिए संबंधित मंत्रालय के साथ इस मामले को उठाएं। साथ ही मुख्यमंत्री ने बागडोगरा से गुवाहाटी तक उड़ानों की आवृत्ति बढ़ाने के लिए मंत्रालय से समर्थन मांगा, जिससे तीर्थ यात्रा के लिए कामाख्या मंदिर आने वाले सिक्किम और पड़ोसी राज्यों के लोगों को काफी फायदा होगा और उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में अंतर-राज्यीय पर्यटन को भी बढ़ावा देगा। बैठक के दौरान सिक्किम सरकार के मुख्य सचिव वीबी पाठक, सिक्किम हाउस के रेजिडेंट कमिश्नर अश्विनी चंद और एचसीएम के सचिव एसडी ढकाल भी मौजूद रहे।