सिक्किम में शहीद हुए मटौर निवासी कैप्टन श्रेयांश कश्यप को मुख्यमंत्री ने श्रद्धांजलि दी। इसकी जानकारी मंगलवार को शहीद के आवास पर पहुंचे केन्द्रीय मंत्री सांसद डॉ.संजीव कुमार बालियान ने शहीद के पिता को दी। उन्होंने सरकार द्वारा की गई घोषणाओं की जानकारी दी और पचास लाख रुपये के आरटीजीएस शहीद के पिता को दिए। इस दौरान गणमान्य लोगों ने शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना जताई।

बता दें कि मटौर पॉवर ग्रिड निवासी शिव गोविंद के पुत्र श्रेयांश कश्यप सिक्किम में तैनाती के दौरान शहीद हो गए थे। सीने में दर्द होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया था जहां उपचार के दौरान उनका निधन हो गया था। मंगलवार को मुख्यमंत्री के निर्देश पर शहीद के मटौर पॉवरग्रिड स्थित आवास पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री व सांसद डॉ. संजीव कुमार बालियान ने परिवार को सांत्वना दी और मुख्यमंत्री द्वारा शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद संवेदना जताई। 

एसडीएम सरधना अमित भारतीय की मौजूदगी में केन्द्रीय मंत्री ने शहीद के पिता शिव गोविंद को सरकार द्वारा पचास लाख रुपये की राहत राशी का आरटीजीएस सौंपा। साथ ही सरकार द्वारा शहीद के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और शहीद के नाम जनपद में एक मार्ग करने की जानकारी दी। मटौर ग्राम प्रधान शिवकुमार चौहान और ग्रामीणों ने भी गांव में शहीद के नाम एक दरवाजे का निर्माण कराने की बात कही। 

इस मौके पर जिला सहकारी बैंक चेयरमैन मनिंदरपाल सिंह, प्रदीप त्यागी, समाजसेवी नवीन शर्मा, राजपाल सिंह, पूर्व भाजयूमो जिलाध्यक्ष मनिंदर विहान, ओमप्रकाश पाल, निरंकार चौधरी, ब्रजपाल चौहान, लाजपाल चौहान, बिजेन्द्र चौहान, चेयरमैन सुरेन्द्र सिंह, सूरज अहलावत, मनोज शर्मा, राहुल खरे, सुदेश अहलावत, आशीष अहलावत, अनुज शर्मा, अमित गुप्ता, पप्पू कौशिक, राजू अहलावत आदि रहे। उधर, शहीद को याद कर पिता शिवगोविंद की आंख से आंसू टपक पड़े। इससे वहां मौजूद हर व्यक्ति की आंख नम हो गई। केंद्रीय मंत्री ने उनको ढांढस बंधाते हुए शांत कराया। वहीं, पिता बोले की शहीद का छोटा भाई उच्च शिक्षित है। यदि सरकार उसकी शिक्षा के अनुरूप नौकरी देगी तो वह स्वीकार करेंगे। इस पर केंद्रीय मंत्री ने शिक्षा के अनुरूप ही नौकरी देने का भरोसा दिया।