राज्य सरकार के दिशा निर्देश के मुताबिक सोमवार से एक सप्ताह के लिए पूर्ण लॉकडाउन शुरु हुआ है। सोमवार को सुबह पाच बजे से शुरु लॉकडाउन 24 मई सोमवार सुबह पाच बजे तक रहेगा। लॉकडाउन के पहले दिन विशेष रूप से दूध और सब्जी की दुकानें खुली थी, जिसे छूट दी गई थी। हालाकि सोमवार को सब्जी की दुकानों को भी बंद रखने का फैसला लिया गया है।

लॉकडाउन के पहले दिन राज्य के चारों जिलों के छोटे और बड़े बाजार बंद रहे। लॉकडाउन अवधि में लोगों का आवागमन न के बराबर रहा। इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि लोग लॉकडाउन के समर्थन में है। इसके अलावा आज दवा की दुकान, बैंक, केंद्र सरकार के कार्यालय और दवा कंपनिया खुली थे, जिन्हें सरकार की ओर से छूट दी गई है। सड़कों पर आवश्यक सेवा, सेना के वाहन, प्रेस-मीडिया, पुलिस के अलावा मरीजों को ले जाने वाले कुछ टैक्सी वाहन ही नजर आए।

विशेष दुकानों में से आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर दूध बेचने वालों को छूट दी गई है। दूध दुकानदारों को दूध के अलावा कुछ भी बेचने की अनुमति नहीं है। लॉकडाउन अवधी में कोविड-19 टीकाकरण को भी छूट है। लेकिन संबंधित व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए पंजीकरण दस्तावेज दिखानी होगी। राज्य सरकार की मानें तो राज्य में कोविड संक्रमण की बढ़ती श्रृंखला को रोकने के प्रयास में एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लागू किया गया है।