बांग्लादेश (Bangladesh) में रोहिंग्या शरणार्थी शिविर आग के हवाले कर दिया है। अब तक, किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। रिपोर्टों के अनुसार, एक लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थियों की मेजबानी करने वाले सीमावर्ती जिले कॉक्स बाजार (Cox’s Bazar) में 16 कैंप में आग लगने की सूचना मिली थी।


उनमें से ज्यादातर 2017 में म्यांमार में सेना के नेतृत्व वाली कार्रवाई से भाग आए हैं। फिलहाल आग पर आपातकालीन कर्मियों ने काबू पा लिया लेकिन आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है।उल्लेखनीय है कि जिले में शरणार्थियों के लिए एक COVID-19 उपचार केंद्र में एक और आग लगने की सूचना मिली थी। पिछले साल मार्च में बांग्लादेश (Bangladesh) में रोहिंग्याओं (Rohingya) के कई घरों में इसी तरह की आग लगने से कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई थी और 50,000 लोग बेघर हो गए थे।