भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पूर्वी राजस्थान, नागालैंड, ओडिशा, तटीय कर्नाटक और तमिलनाडु के घाट क्षेत्रों के अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। 

ये भी पढ़ेंः Petrol and Diesel Price: भारत में इस जगह मिल रहा है बस 84 रुपए लीटर पेट्रोल


वहीं मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने गुरुवार को प्रदेश के कई क्षेत्रों के लिए भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। 14 अगस्त के लिए भी येलो अलर्ट जारी हुआ है। प्रदेश में 16 अगस्त तक मौसम खराब रहने की संभावना है। प्रदेश में बीते दिनों हुई भारी बारिश से 44 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही अभी भी ठप है। तीन बिजली ट्रांसफार्मर और दस पेयजल योजनाएं भी बंद रहीं। कुल्लू और चंबा जिले में बारिश से जनजीवन अधिक प्रभावित हुआ है। 

ये भी पढ़ेंः जम्मू कश्मीर में सेना की कंपनी पर आतंकी हमला, दो आतंकवादी ढेर, 3 जवान शहीद


मौसम विभाग ने हिमाचल में 13 अगस्त 2022 तक निम्न एवं उच्च पहाड़ी क्षेत्रों में भारी वर्षा होने की संभावना जताई है। इस दौरान लोगों को नदी और नालों के पास न जाने की सलाह दी गई है। कई जगहों पर भूस्खलन को लेकर भी सावधान किया गया है। वहीं बुधवार को इंदौर में भारी बारिश से मध्य प्रदेश शहर के निचले इलाकों में पानी भर गया, जहां सड़कों पर पानी के तेज बहाव के कारण कुछ कारें बह गईं। मंगलवार शाम से हो रही भारी बारिश से पैदा हुए हालात से चिंतित जिला प्रशासन ने बुधवार को स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया था।