मणिपुर में शुक्रवार को भूकंप के मामूली झटके महसूस किये गये। मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार तड़के करीब तीन बजकर 53 मिनट पर आये भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.2 आंकी गयी। भूकंप का केन्द्र तेंगनौपाल, मणिपुर से लगभग पांच किलोमीटर दूर था। भूकंप के झटके म्यांमार और बंगलादेश के साथ ही पड़ोसी राज्यों मिजोरम, त्रिपुरा, नागालैंड, असम तथा मेघालय में भी महसूस किये गये। जानमाल के नुकसान की फिलहाल कोई रिपोर्ट नहीं है। 

ये भी पढ़ेंः गजबः 2 फुट तक भरा हो पानी फिर भी फर्राटे से दौड़ेगी वंदे भारत एक्सप्रेस, जानिए इसकी खूबियां


इससे पहले पिछले शुक्रवार को भी मणिपुर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। मणिपुर के मोइरांग से 100 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में शुक्रवार सुबह 10.02 बजे भूकंप के तेज झटके आए थे। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.5 रही। इस भूकंप के तेज झटके से लोग सहम गए और घरों से बाहर निकल गए और सड़क पर खड़े हो गए। हालांकि किसी तरह का कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ। स्थानीय रहवासियों के अनुसार भूकंप के झटके महसूस होने के बीच घरों में रखी कई वस्तुएं हिलने लगी थीं।

ये भी पढ़ेंः इस्लामिक संगठन PFI पर लगा बैन तो भड़क उठीं मायावती, RSS को लेकर कह दी इतनी बड़ी बात


हाल ही में अंडमान में भूकंप केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। द्वीपीय प्रदेश में आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.1 मापी गई थी। भूकंप का केंद्र कैंपबेल बे से 431 किलोमीटर दूर था। भूकंप की गहराई जमीन से 75 किमी नीचे थी। इससे पहले हाल ही में दुनिया के सबसे उंचे युद्ध स्थल कारगिल में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई थी। मीडिया में आई खबर के अनुसारए भूकंप का प्रभाव लद्दाख के आसपास महसूस किया गया था। भूकंप की गहराई जमीन से 10 किमी नीचे थी।