गंगटोक। दक्षिण सिक्किम के विभिन्न स्थानों में निर्मित तीन पूर्वाधार को मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग (गोले) ने राज्य को समर्पित किया। उन्होंने नामची बूमटार स्थित वृद्धाश्रम, जोरथाग के करफेकटार के कौशल विकास केंद्र के भवन में कोविड केयर सेंटर और किचुडुमरा में सुधार गृह का उद्घाटन किया। 

ये भी पढ़ेंः ईसाई मिशनरी स्कूल में राखियां उतरवाकर कूड़ेदान में फेंका, मचा बवाल

मुख्यमंत्री गोले ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को राज्य क्षमता निर्माण संस्थान (एसआईसीबी) में स्थानातरित करने की जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि यहा राज्य के युवाओं को विभिन्न क्षेत्र में कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया जाता था। उन्होंने इस स्थान पर उचित स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही डायलिसिस की सुविधा भी जल्द ही उपलब्ध कराने की बात कही।

इस स्वास्थ्य केंद्र में 17 इंटेंसिव केयर यूनिट बेड और 19 हाई केयर यूनिट बेड होंगे। इसके साथ ही 25 बेडसाइड मनिटर, 13 वेटीलेटर, 1 डिजिटल एक्स-रे, 150 आक्सीजन सिलिंडर (डी टायप), 330 लीटर प्रति मिनट क्षमता वाली आक्सीजन प्लाट, 1 डेफिब्रिलेटर, 1 ईसीटी मशीन, 1 ए.बी.जी मशीन आदि उड़ान किया जाएगा। इसके अलावा इस केंद्र में प्रयोगशाला, आटोक्लेव भी शामिल होंगे।

यह भी पढ़े : सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी : चुनावों के दौरान किए जाने वाले मुफ्त सुविधाओं के वादे अर्थव्यवस्था के लिए गंभीर

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ स्वास्थ्य मंत्री डॉ. एमके शर्मा, क्षेत्रीय विधायक सुनीता गजमेर, स्वास्थ्य आयुक्त तथा सचिव डी. आनंद, नामची जिला के जिलाधिकारी एम भरणी कुमार, नामची के सीएमओ डा. डीसी शर्मा लगायत क्षमता विकास के अधिकारी उपस्थित थे।