गुवाहाटी : बुल्ली बाई मामले के निर्माता नीरज बिश्नोई समेत तीन आरोपियों को मुंबई की सत्र अदालत ने जमानत दे दी।  अदालत ने नीरज बिश्नोई, ओंकारेश्वर ठाकुर और नीरज सिंह को जमानत दे दी थी।

यह उल्लेख किया जा सकता है कि ठाकुर और बिश्नोई कथित तौर पर "वर्चुअल स्पेस में मुस्लिम महिलाओं की नीलामी के लिए सुल्ली डील और बुल्ली बाई मोबाइल ऐप" चला रहे थे।

यह भी पढ़े : Horoscope 23 June: आज इन राशि वालों के साथ हो सकती है  दुर्घटना, लाल वस्‍तु का दान करें, शुभ होगा


इन दोनों में से ठाकुर पर सुल्ली डील्स एप्लिकेशन बनाने का आरोप लगाया गया है और उन्हें 8 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली पुलिस ने इस साल की शुरुआत में चार्जशीट दाखिल की थी।

ठाकुर के खिलाफ आरोप पत्र धारा 153ए, 153बी, 354ए(3) आईपीसी आर/डब्ल्यू 66, 67 आईटी एक्ट के तहत दायर किया गया था। जबकि बुल्ली बाई के निर्माता नीरज बिश्नोई के खिलाफ धारा 153A, 153B, 354A, 509 IPC r/w 66, 67 IT अधिनियम के तहत आरोप पत्र दायर किया गया था।

यह भी पढ़े : Surya Nakshatra Parivartan :  6 जुलाई तक इन राशियों पर मेहरबान रहेंगे सूर्यदेव, प्रमोशन के बनेंगे प्रबल योग


बिश्नोई असम के जोरहाट के दिगंबर इलाके का निवासी है और बी.टेक का छात्र है और उसे इस साल 6 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था।