बिहार में विधानसभा चुनाव 2020 होने वाले हैं। सभी पार्टियां लोगों को लुभाने के लिए कई तरह के काम कर रही है। पक्ष-विपक्ष पार्टियों बयानबाजी कर रही है। लेकिन इसी बीच बिहार में अनोखी घटना देखने को मिली है। बिहारशरीफ कोर्ट में लोगों के बीच दहशत छा गया जब कचहरी व थाना कार्यालय के पास के दरख़्तों पर रह रहे दर्जनों प्रवासी पक्षियों की अचानक मौत हो गई।


अचानक से इतने सारे पक्षियों की मौत एक रहस्य बनी हुई है। इसकी भनक तत्काल वन विभाग को दी गई। वह घटनास्थल का जायजा ले रहे हैं। वन विभाग कर्मियों ने लोगों को भी मरे हुए पक्षियों से दूर रहने को कहा है। डीएफओ के. नेशामणि ने बताया कि घटनास्थल के पास से कई नमूने लिये गये हैं और जांच के लिए कोलकाता लैब में भेज दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पक्षियों की मौत किस कारण से हुए पता लग सकेगा।


वन विशेषज्ञों ने मरने वाले पक्षियों के बारे में बताया कि पक्षी अधिकतर एशियन ओपनबिल प्रजाति के हैं। आकार में मध्यम और स्टार्क प्रजाति से इनका संबंध प्रतित होता है। यह पक्षी घोंघा खाते हैं। विशेषज्ञों पक्षी के शरीक के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इनकी चोंच के बीच में खाली स्थान होने के कारण इन्हें ओपनबिल कहा जाता है जो कि घोंघे को उसके कठोर आवरण से बाहर निकालने में मदद करता है।