अब घरेलू महिलाएं भी आत्मनिर्भर बन रही हैं। साथ ही वह घर में भी अपना योगदान दे रही हैं। वह ऑफिस न जाकर घर से कई ऑनलाइन काम (Online work) कर रही हैं। अगर आप भी चाहते हैं कि आपकी पत्नी भी किसी पर निर्भर न रहे तो आपको नेशनल पेंशन स्कीम में निवेश करना चाहिए। आप पत्नी के नाम पर न्यू पेंशन सिस्टम (New Pension System) खाता खोल सकते हैं। इसके कई फायदे हैं। 

एनपीएस अकाउंट (NPS Account) में आप यह खुद तय कर सकते हैं कि पत्नी को हर महीने कितनी पेंशन राशि मिलेगी। 60 साल की उम्र के बाद आपकी पत्नी पैसों के लिए किसी पर निर्भर नहीं रहेंगी। इस खाते में अपनी सुविधा के अनुसार हर महीने या सालाना भी पैसे जमा करवा सकते हैं। एक हजार रुपए से भी आप एनपीएस अकाउंट खुलवा सकते हैं। यह खाता 60 वर्ष की आयु में मैच्योर हो जाता है।

मान लीजिए आपकी पत्नी की उम्र अभी 30 साल है। और अगर आप उनके एनपीएस खाते में हर महीने पांच हजार रुपए जमा करवाते हैं। अगर इसपर सालाना 10 फीसद रिटर्न मिलता है। तब 60 साल की आयु में उनके अकाउंट में 1.12 करोड़ रुपए होंगे। इसमें से करीब 45 लाख रुपए मिलेंगे। वहीं हर महीने 45 हजार रुपए पेंशन भी मिलेगी।

क्या है एनपीएस

एनपीएस (NPS) भारत सरकार की सोशल सिक्योरिटी स्कीम है। इस योजना में पैसों का प्रबंधन प्रोफेशनल फंड मैनेजर करते हैं। केंद्र सरकार प्रोफेशनल फंड मैनेजर्स को इसकी जिम्मेदारी देती है।