जल्द ही हो सकता की आप घर बैठे ही अपना बहुमूल्य वोट अपने पसंदीदा उम्मीदवार को दे सकेंगे. इसके साथ ही  बॉर्डर पर बैठा जवान हो या विदेश में बैठा  नौजवान अपनी-अपनी जगह से ही वोट कर सकेंगे. दरअसल हम बात कर रहे हैं ब्लॉक चैन तकनीक की जिससे आप इंटरनेट से वोट कर सकेंगे और घर बैठे ही देश का प्रधानमंत्री भी चुन सकेंगे। 

जानिए का है तकनीक 

आपके कम्प्यूटर पर एक ऐप्लिकेशन के रूप में डेटा की एक चैन होती है जिसे ब्रेक करना मुश्किल होता है और इस पर जितने लोग जुड़ेंगे उतनी लम्बी ये चैन होगी लेकिन आप इस चैन में जो भी सूचना शामिल करेंगे उसे मिटाना या हटाना नामुमकिन होगा. इसे नेक्स्ट जेनरेशन वोटिंग भी कहते हैं। 

कैसे होगा संभव ?

इस तकनीकी में आपके सिस्टम पर एक ब्लाक चैन तकनीक होगी जिसमें आपकी पहचान पहले से होगी आप उसे अपनी पहचान से मैच करेंगे और अपना वोट करेंगे. जिसे बदलना मुश्किल होगा और मात्र कुछ सेकंड में आप अपना क़ीमती वोट कर सकेंगे और आप स्क्रीन पर इसे देख भी सकेंगे कि आपने किसको अपना वोट दिया है.

हैकिंग का भी डर ?

कुछ चुनौतियां यहां भी होगी जिन पर जीत पाना बेहद जरूरी होगा. हालांकि अभी तक इसको लेकर हैकिंग की कोई ख़बर कहीं से नहीं आई है. इस्टोनिया , वेस्ट वर्जिन्या, जापान, सीएरा लीओन में ब्लाक चैन से वोटिंग हो चुकी है, सीएरा लीयोन में इसी साल मार्च के महीने में पहली बार ब्लॉक चैन वोटिंग से पूरा चुनाव हुआ था.

गौरतलब है कि हमारे देश के चुनाव में हजारों करोड़ रुपयों का ख़र्चा आता है लेकिन अगर ब्लॉक चैन वोटिंग होती है तो देश का ये ख़र्चा आधा हो जाएगा. जानकारो की माने तो ये तकनीक चुनाव में जल्द ही भारत में भी दस्तक दे सकती है।